पीएम मोदी अपने भाषणों में कैसे पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की याद दिलाते हैं?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यूं तो अपने किसी भी सरकारी या राजनीतिक कार्यक्रम में गांधी-नेहरु परिवार पर व्यंग्य करने से हिचकते नहीं हैं. लेकिन उनके भाषणों के कुछ अंश पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के भाषण से पूरी तरह प्रभावित दिखते हैं.

पीएम मोदी अपने भाषणों में कैसे पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की याद दिलाते हैं?

पीएम मोदी (फाइल फोटो)

खास बातें

  • पीएम मोदी के भाषणों में दिखती है इंदिरा गांधी की झलक
  • उनके भाषण के कुछ अंश इंदिरा गांधी के भाषण से मिलते हैं
  • पीएम मोदी ने पटना में आयोजित एनडीए की मेगा संकल्प रैली को संबोधित किया
नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यूं तो अपने किसी भी सरकारी या राजनीतिक कार्यक्रम में गांधी-नेहरु परिवार पर व्यंग्य करने से हिचकते नहीं हैं. लेकिन उनके भाषणों के कुछ अंश पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के भाषण से पूरी तरह प्रभावित दिखते हैं. जैसे इंदिरा गांधी अपने भाषण में कहती थी, "वो कहते हैं इंदिरा हटाओ और मैं कहती हूं गरीबी हटाओ. वहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को पटना में आयोजित संकल्प रैली के अपने भाषण में कहा, "वो कहते हैं कि आओ मिलकर मोदी को खत्म करें,  मैं कहता हूं कि आओ मिलकर गरीबी का मुकाबला करें. देश को गरीबी से मुक्त करें. वो कहते हैं कि आओ मिलकर मोदी को खत्म करें और मैं कहता हूं कि आओ हम सब एक होकर भ्रष्टाचार और काले धन को समाप्त करें." 

बिहार के इस मंत्री के ट्वीट से हुआ साबित, पीएम मोदी राजनीतिक रैलियों में भी करते हैं टेलीप्रॉम्प्टर का इस्तेमाल

पीएम मोदी ने आगे अपने संबोधन में कहा, " वो कहते हैं कि आओ मिलकर मोदी को खत्म करें, मैं कहता हूं कि आओ हम सब मिलकर देश के नौजवानों के लिये नये अवसर बनायें उनके सपने पूरे करें, इसके लिये काम करें. वो कहते हैं कि आओ मिलकर मोदी को खत्म करें, मैं कहता हूं कि आओ देश में कुपोषण को खत्म करें गंदगी को खत्म करें. भाषण के इस अंश को सुनकर भाजपा नेता भी मानते हैं कि यह छाप इंदिरा गांधी की लगती है. लेकिन उनका मानना है कि जनता पर इसका काफी असर होता है, क्योंकि पीएम  मोदी काफी आक्रामक दिखते हैं.

बिहार में NDA का शक्ति प्रदर्शन: नीतीश कुमार बोले- प्रधानमंत्री जी, हम भरोसा दिलाते हैं हम 40 में से 40 सीटें जीतेंगे

पटना में आयोजित एनडीए की मेगा संकल्प रैली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सीएम नीतीश कुमार की तारीफ करने के साथ-साथ विपक्षी दलों पर जमकर निशाना भी साधा. पीएम मोदी ने कहा कि बिहार में विकास की रफ्तार को तेजी मिली है. नीतीश कुमार ने बिहार को नई दिशा दी है. पटना में मेट्रो शुरू होने वाली है. पटना को स्मार्ट बनाने की दिशा में कई कदम उठाये गए हैं. बिहार को जिस स्थिति से बाहर निकाला वो प्रशंसनीय है. एनडीए की सरकार ये सुनिश्चित करने में जुटी है कि बिहार में विकास की पंचधारा यानि बच्चों को पढ़ाई, युवा को कमाई, बुजुर्गों को दवाई, किसान को सिंचाई और जन-जन की सुनवाई, ये सुनिश्चित हो. 

NDA की रैली में बोले पीएम मोदी, अब भारत अपने वीर जवानों की शहादत पर चुप नहीं बैठता, चुन-चुन कर बदला लेता है


उन्होंने कहा कि बिहार ने विकास की जिस रफ्तार को पकड़ा है, वो और गति पकड़े इसके लिए केंद्र की एनडीए सरकार ने निरंतर प्रयास किया है. कुछ दिन पहले ही बरौनी में 30 हजार करोड़ से अधिक की परियोजनाओं की सौगात बिहार को दी गई थी. ये बिहार के विकास के लिए किए जा रहे निरंतर प्रयासों की एक झलक भर थी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO: सुनें, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भाषण