NDTV Khabar

बिहार में बंद होंगे अवैध बूचड़खानों, जल्द ही शुरू हो सकती है कार्रवाई

बिहार के पशु एवं मत्स्य संसाधन मंत्री पशुपति कुमार पारस ने मीडिया से बातचीत में इस बात के संकेत दिए हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बिहार में बंद होंगे अवैध बूचड़खानों, जल्द ही शुरू हो सकती है कार्रवाई

फाइल फोटो

खास बातें

  1. बिहार में बंद किए जाएंगे अवैध बूचड़खाने
  2. मंत्री ने मांगी इस मामले में रिपोर्ट
  3. बिहार में सिर्फ 2 बूचड़खानों को है लाइसेंस
नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश की तरहबिहार सरकार भी अवैध बूचड़खानों के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर सकती है. बिहार के पशु एवं मत्स्य संसाधन मंत्री पशुपति कुमार पारस ने मीडिया से बातचीत में इस बात के संकेत दिए हैं. लोक जनशक्ति पार्टी के नेता पशुपति कुमार ने कहा कि उन्होंने विभाग के सचिव से हफ्ते भर में राज्य में चल रहे सभी बूचड़खानों पर रिपोर्ट तैयार करने के लिए कहा है. इस रिपोर्ट के आधार पर कानून के हिसाब से कार्रवाई की जाएगी. मंत्री की बातो से साफ संकेत मिल रहे हैं कि बिहार करीब 140 बूचड़खानों पर जल्द ही ताला लटक सकता है. मिल रही है जानकारी के मुताबिक बिहार में सिर्फ 2 बूचड़खाने ही ऐसे हैं जो कानून के मुताबिक चल रहे हैं. यह दोनों अररिया के फोर्बिसगंज इलाके में हैं और इनको राज्य सरकार की ओर से लाइसेंस भी दिया गया है.

यह भी पढ़ें :बिहार के भोजपुर में एक ट्रक में बीफ ले जाने की खबर पर बवाल

टिप्पणियां
बिहार में यहां हैं सबसे ज्यादा अवैध बूचड़खाने 
मीडिया में आई रिपोर्ट के मुताबिक बिहार में सबसे ज्यादा बूचड़खाने सीमांचल क्षेत्र में हैं. इनमें किशनगंज, पूर्णिया जैसे जिले शामिल हैं. जबकि पटना में ही अकेले दर्जन भर से ज्यादा अवैध बूचड़खाने चलाए जा रहे हैं. पशुपति कुमार पारस से पहले रहे विभाग के मंत्री अवधेश कुमार सिंह ने भी मार्च में अवैध बूचड़खानों पर रिपोर्ट मंगवाई थी. 

Video : बिहार में भी शुरू हुआ बवाल



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement