NDTV Khabar

शराबबंदी लागू कराना नोटबंदी से कठिन फ़ैसला : सुशील मोदी

सर्जिकल स्ट्राइक एक ही दिन या एक बार करना होता है लेकिन शराबबंदी में आपको रोज़ शराब माफिया के ख़िलाफ़ सर्जिकल स्ट्राइक करना होता है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
शराबबंदी लागू कराना नोटबंदी से कठिन फ़ैसला : सुशील मोदी

बिहार के उप मुख्‍यमंत्री सुशील कुमार मोदी (फाइल फोटो)

पटना: बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने कहा है कि शराबबंदी, नोटबंदी से अधिक कठिन फ़ैसला है. मोदी नशामुक्ति दिवस पर आयोजित सरकारी कार्यक्रम में बोल रहे थे. मोदी ने कहा कि शराबबंदी लागू कराना एक निरंतर संघर्ष है. जैसे सर्जिकल स्ट्राइक एक ही दिन या एक बार करना होता है लेकिन शराबबंदी में आपको रोज़ शराब माफिया के ख़िलाफ़ सर्जिकल स्ट्राइक करना होता है. मोदी ने कहा कि यह नोटबंदी से ज़्यादा कठिन है और ये लड़ाई चलती रहेगी. मोदी ने कहा कि ये देव और दानव के लड़ाई की तरह है.

अपने भाषण में शराबबंदी के निर्णय के लिए उन्‍होंने नीतीश कुमार की जमकर तारीफ़ की. मोदी ने कहा कि 'यही क़दम राज्य में दस साल पहले नहीं उठाया जा सकता था. बिहार में शराब पीना सामाजिक रूप से स्वीकार नहीं था. लेकिन इस मामले में किसी को छूट ना देकर नीतीश ने साहसिक क़दम उठाया है और जिसके लिए उनकी हिम्मत की दाद दी जानी चाहिए.'

यह भी पढ़ें : सुशील मोदी के बेटे की शादी में न बैंड बजेगा, न गिफ्ट लिए जाएंगे, न दहेज लिया जाएगा

टिप्पणियां
मोदी के अनुसार शराबबंदी का उल्लंघन अधिकांश समाज के उच्‍च वर्ग के लोग कर रहे हैं. लेकिन जिस राज्य में पुलिस वाले गिरफ़्तार और बर्खास्त हो रहे हैं तब वहां समाज को भी आगे आना चाहिए. हालांकि उप मुख्‍यमात्री अपने भाषण के अंत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का नाम लेना नहीं भूले और कहा कि सामाजिक बदलाव के लिए कठिन निर्णय हर व्यक्ति नहीं ले सकता, इसके लिए नरेंद्र मोदी और नीतीश कुमार जैसा व्यक्ति चाहिए.

VIDEO: बिहार के बाद अब मध्य प्रदेश में भी शराबबंदी की तैयारी


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement