आईआरसीटीसी घोटाला : सीबीआई ने राबड़ी देवी से पहली बार की पूछताछ

मामला दर्ज होने के बाद लालू यादव और तेजस्वी यादव के साथ एजेंसी पूछताछ कर चुकी है

आईआरसीटीसी घोटाला : सीबीआई ने राबड़ी देवी से पहली बार की पूछताछ

राबड़ी देवी (फाइल फोटो)

खास बातें

  • इधर राबड़ी से पूछताछ, उधर पीएम मोदी का भाषण
  • तेजस्वी यादव इस मामले में सजिशकर्ता बनाए गए
  • राजद के कई विधायक राबड़ी देवी के घर पर जुटे
पटना:

सीबीआई ने मंगलवार को बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी से पूछताछ की. यह पूछताछ उनके पटना स्थित निवास पर करीब चार घंटे तक चली.

यह पूछताछ रेलवे के दो होटलों के बारे में की गई जो रांची और पुरी में हैं और और लालू यादव के रेल मंत्री काल में इन्हें पटना के सुजाता ग्रुप को दिया गया. सीबीआई द्वारा दर्ज प्राथमिकी के अनुसार लालू ने इस ग्रुप से होटल के बदले ज़मीन ली. हालांकि मामला दर्ज होने के बाद लालू यादव और तेजस्वी यादव के साथ एजेंसी पूछताछ कर चुकी है. लेकिन राबड़ी देवी से सीबीआई के बार-बार समन के बावजूद पूछताछ नहीं हुई थी.

ये एक संयोग कहा जा सकता है कि जब सीबीआई को टीम पूछताछ कर रही थी तब प्रधानमंत्री  नरेंद्र मोदी बिहार के मोतिहारी में भाषण दे रहे थे. उन्होंने अपने भाषण में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के भ्रष्टाचार के ख़िलाफ़ मुहिम की चर्चा करते हुए कहा कि केंद्र सरकार उनके साथ खड़ी है. दरअसल इस आईआरसीटीसी मामले के बाद नीतीश कुमार ने राजद और कांग्रेस के साथ अपना महागठबंधन खत्म कर भाजपा के साथ नई सरकार बनाई थी.

लेकिन इस मामले में सीबीआई की लीगल टीम ने प्राथमिकी दर्ज होने के पहले कई आपत्तियां दर्ज की थीं. तेजस्वी यादव जिन्हें इस मामले में सजिशकर्ता बनाया गया है, कई बार सार्वजनिक मंच से जांच एजेंसी को उनके खिलाफ चार्जशीट जल्द दायर करने की चुनौती दे चुके हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


मंगलवार को छापेमारी के बाद राजद के कई विधायक राबड़ी देवी के घर पर जुटे. अधिकांश प्रवक्ताओं ने आरोप लगाया कि जानबूझकर पूरे लालू यादव के परिवार को परेशान किया जा रहा है.