NDTV Khabar

नालंदा में निगरानी विभाग के हत्थे चढ़ा 1.32 लाख रुपये बतौर रिश्वत लेते जूनियर इंजीनियर

बिहार के नालंदा में राज्य निगरानी अन्वेषण ब्यूरो की एक टीम ने योजना एवं विकास विभाग के कनीय अभियंता राजकुमार प्रसाद को एक व्यक्ति से रिश्वत के तौर पर एक लाख 32 हजार रुपये लेते हुए आज रंगेहाथ धर दबोचा.

45 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
नालंदा में निगरानी विभाग के हत्थे चढ़ा 1.32 लाख रुपये बतौर रिश्वत लेते जूनियर इंजीनियर

प्रतीकात्मक तस्वीर

पटना: बिहार के नालंदा में हिलसा से राज्य निगरानी अन्वेषण ब्यूरो की एक टीम ने योजना एवं विकास विभाग के कनीय अभियंता राजकुमार प्रसाद को एक व्यक्ति से रिश्वत के तौर पर एक लाख 32 हजार रुपये लेते हुए आज रंगेहाथ धर दबोचा. पुलिस उपाधीक्षक महाराजा कनिष्क कुमार सिंह के नेतृत्व में पटना स्थित ब्यूरो के मुख्यालय की एक टीम ने हिलसा के कौशिक नगर स्थित उनके निजी किराए के एक मकान से राजकुमार प्रसाद को एक व्यक्ति से रिश्वत के तौर पर एक लाख 32 हजार रुपये लेते हुए रंगेहाथ गिरफ्तार किया. 

यह भी पढ़ें - पुलिस कर्मी पांच हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगेहाथों गिरफ्तार

सिंह ने बताया कि चिकसौरा थाना के बरियापुर निवासी वार्ड सदस्य एवं ठेकेदार अनुज कुमार ने शिकायत की थी कि सात निश्चय योजना के तहत उनके द्वारा कुल 12 लाख 22 हजार रुपये की लागत से नाली-गली के निर्माण के लिए राजकुमार द्वारा रिश्वत के तौर पर उनसे एक लाख 32 हजार रुपये की मांग की जा रही है. गिरफ्तार अभियुक्त से पूछताछ किए जाने के बाद उन्हें पटना स्थित निगरानी की विशेष अदालत के समक्ष पेश किया जाएगा.

VIDEO: संसद में उठा एनएचआईए अधिकारियों को रिश्वत देने का मामला

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement