NDTV Khabar

एक तरफ गांधी, दूसरी तरफ गोडसे पर माल्यार्पण का आडम्बर नहीं चलेगा : लालू यादव ने किया बीजेपी पर हमला

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
एक तरफ गांधी, दूसरी तरफ गोडसे पर माल्यार्पण का आडम्बर नहीं चलेगा : लालू यादव ने किया बीजेपी पर हमला
पटना: बिहार की सत्ता में भागीदार राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने केंद्र में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पर जमकर हमला बोला, और कहा कि एक ओर महात्मा गांधी तथा दूसरी ओर नाथूराम गोडसे की तस्वीर पर माल्यार्पण करने का आडम्बर नहीं चलने दिया जाएगा. राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की चम्पारण यात्रा के 100 साल पूरे होने के उपलक्ष्य में पटना में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान लालू के अलावा बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार तथा कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने भी बीजेपी पर निशाना साधा.

सोमवार को पटना में आयोजित कार्यक्रम के दौरान राष्ट्रपति डॉ प्रणब मुखर्जी ने स्वतंत्रता सेनानियों को सम्मानित किया, और इस कार्यक्रम में राज्य सरकार ने सभी दलों के नेताओं को आमंत्रित किया था, परंतु बीजेपी और उसके सहयोगी दलों ने लालू प्रसाद यादव के चारा घोटाले में सज़ायाफ्ता होने के आधार पर कार्यक्रम का बहिष्कार किया.

इसी बहिष्कार को आधार बनाकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने संयमित लहज़े में, इशारों-इशारों में महात्मा गांधी को उद्धृत करते हुए कार्यक्रम में शामिल हुए अतिथियों को भी धन्यवाद दिया, और जो नहीं आए, उन्हें भी अलग से धन्यवाद कहा. नीतीश कुमार ने बीजेपी नेताओं पर व्यंग्य करते हुए कहा कि इस कार्यक्रम को पार्टी के नहीं, वैचारिक दृष्टिकोण से देखने की ज़रूरत थी. नीतीश कुमार ने यह भी कहा कि जब देश में टकराव और असहिष्णुता का वातावरण बना हुआ है, उसमें गांधी के विचार को लेकर ही आगे बढ़ा जा सकता है. बिहार के मुख्यमंत्री ने बीजेपी और सहयोगी दलों द्वारा किए गए बहिष्कार पर कहा कि कार्यक्रम में आना या न आना उन पर निर्भर करता है, और उन्हें इस बात से कोई शिकायत नहीं है.

इस अवसर पर नीतीश कुमार ने यह घोषणा भी की कि राज्य सरकार आने वाले दिनों में 'बापू तेरे द्वार' कार्यक्रम चलाएगी, जिसमें घर-घर जाकर बापू के विचारों को फैलाया जाएगा. इसके अलावा अब हर स्कूल में प्रार्थना के बाद 'बापू का दिया वचन' पढ़ा जाएगा, जो उन्हीं की 50 कहानियों में से चुना जाएगा.

उनके बाद लालू प्रसाद यादव ने खुलकर बीजेपी को निशाने पर रखते हुए कहा कि एक तरफ बापू के हत्यारे नाथूराम गोडसे और दूसरी तरफ गांधी बाबा को माला पहनाने का आडम्बर नहीं चलने दिया जाएगा. लालू ने यहां तक सवाल किया कि हम लोगों से गांधी बाबा को किसने छीना...? लालू ने पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा के एक भाषण का ज़िक्र करते हुए कहा कि उन्होंने भी माना था कि अगर गांधी आज होते, तो वह लज्जित होते. लालू प्रसाद यादव ने कहा कि अगर केंद्रीय गृहमंत्री को इस कार्यक्रम में नहीं आना था, तो उन्होंने सहमति क्यों दी थी. आरजेडी प्रमुख ने अपने भाषण की समाप्ति 'भारत माता की जय' से करते हुए कहा, "रघुपति राघव राजा राम, जिन्होंने आपका अपमान और बहिष्कार किया, उन्हें सद्बुद्धि दे भगवान..."

टिप्पणियां
इस अवसर पर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने भी कहा, जिसके पास सत्ता होती हैं, वही अगर नफरत फैलाने, और डराने की कोशिश करेगा, तो देश के लोग उसे मानने के लिए तैयार नहीं हैं. राहुल गांधी ने सवाल करते हुए कहा, क्या जलियांवाला बाग में सिर्फ हिन्दू या सिर्फ सिख मारे गए थे. उन्होंने कहा कि वहां सिर्फ हिन्दुस्तानी मारे गए थे, और गांधीजी ने जो कुछ भी किया, सभी जोड़ने के लिए किया. देश में हिन्दू की नई परिभाषा पर भी राहुल ने कहा हिन्दू का मतलब सच्चाई की रक्षा करना होता है. उन्होंने कहा, हर किताब में लिखा है, हर व्यक्ति का आदर करो.

कार्यक्रम के बाद बीजेपी के सहयोगी तथा पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने कहा कि उनकी इच्छा कार्यक्रम में शिरकत करने की थी, लेकिन बीजेपी के फैसले के बाद गठबंधन धर्म निभाने के लिए उन्होंने कार्यक्रम में नहीं जाना ही उचित समझा.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement