NDTV Khabar

चारा घोटाले में जेल में बंद लालू यादव के दोनों 'सेवक' रिहा, जदयू ने कसा तंज- अब किससे मालिश करवाइएगा

जद (यू) के प्रवक्ता और विधान परिषद के सदस्य नीरज कुमार ने गुरुवार को कहा कि इस मामले के सच साबित होने के बाद यह तय हो गया कि राजद के अध्यक्ष ने जेल में भी फर्जीवाड़ा किया. फर्जी मामले बनवाकर दो कार्यकर्ताओं को अपनी सेवा करने के लिए जेल पहुंचाया.

166 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
चारा घोटाले में जेल में बंद लालू यादव के दोनों 'सेवक' रिहा, जदयू ने कसा तंज- अब किससे मालिश करवाइएगा

चारा घोटाले में जेल में बंद लालू यादव के दोनों 'सेवक' रिहा (फाइल फोटो)

रांची: चारा घोटाले के एक मामले में रांची की जेल में बंद राष्ट्रीय जनता दल (राजद) अध्यक्ष लालू प्रसाद की सेवा के लिए फर्जी मामले बनाकर जेल गए दो 'सेवादारों' के जेल से रिहा होने के बाद बिहार में सत्ताधारी जनता दल (युनाइटेड) ने लालू प्रसाद पर तंज कसा है.

जद (यू) के प्रवक्ता और विधान परिषद के सदस्य नीरज कुमार ने गुरुवार को कहा कि इस मामले के सच साबित होने के बाद यह तय हो गया कि राजद के अध्यक्ष ने जेल में भी फर्जीवाड़ा किया. फर्जी मामले बनवाकर दो कार्यकर्ताओं को अपनी सेवा करने के लिए जेल पहुंचाया.

चारा घोटाला: लालू प्रसाद यादव पर एक और मामले में इसी महीने फैसला आ सकता है फैसला

उन्होंने लालू पर तंज कसते हुए कहा, "अब किससे मालिश करवाइएगा. फर्जीवाड़ा करना आपका कृत्य रहा है. अपने कार्यकर्ताओं से फर्जीवाड़ा कर उनकी जमीन लिखवाना और फर्जी मामला दर्ज करवाकर अपने स्वार्थ के लिए जेल पहुंचाना आपके सामाजिक न्याय के ढकोसला नीति को प्रदर्शित करता है." नीरज कुमार ने कहा कि लालू प्रसाद ने फर्जी मामले में अपने दो कर्यकर्ताओं को 'सेवादार' के रूप में जेल के भीतर कराया था. लालू प्रसाद की राजनीति ही यही है.

VIDEO- लालू जी को बेल जरूर मिलेगी, हम हाईकोर्ट जाएंगे : तेजस्वी यादव

उल्लेखनीय है कि फर्जी मामले में जेल पहुंचे दो कार्यकर्ताओं मदन यादव और लक्ष्मण का मामला जब तूल पकड़ा तब पुलिस ने इसकी जांच कराई और जांच में मामला सत्य पाया गया. मदन और लक्ष्मण बुधवार को अदालत के आदेश के बाद जेल से रिहा कर दिए गए.

इनपुट- आईएएनएस

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement