NDTV Khabar

आयकर विभाग ने बेनामी संपत्तियों को लेकर लालू परिवार पर की कार्रवाई, तेजस्वी बोले - झूठी खबरों पर कब तक प्रतिक्रिया दूं

आयकर विभाग ने बेनामी संपत्ति मामले में लालू प्रसाद यादव के परिवार के छह सदस्यों पर बेनामी एक्ट के तहत कार्रवाई की है.

1Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. बेनामी संपत्ति मामले में लालू यादव के परिवार के छह सदस्यों पर कार्रवाई
  2. लालू की पत्नी राबड़ी देवी को भी आयकर विभाग ने भेजा समन
  3. दिल्ली से लेकर पटना तक की बेनामी संपत्तियां जब्त की
नई दिल्ली/ पटना: आयकर विभाग ने बेनामी संपत्ति मामले में लालू प्रसाद यादव के परिवार के छह सदस्यों पर बेनामी एक्ट के तहत कार्रवाई की है. छह सदस्यों में बिहार सरकार में मंत्री तेजस्वी यादव और लालू की बेटी और राज्यसभा सांसद मीसा भारती, लालू की पत्नी राबड़ी देवी शामिल हैं. उधर, तेजस्वी ने इस मामले में प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि समझ में नहीं आ रहा कि मीडिया किस तथ्य के आधार पर खबर दिखा रहा है. अगर पेनल्टी लगी है तो कागजात दिखाइये अन्यथा माफी मांगें. झूठी बातों पर कब तक प्रतिक्रिया दूं.

आयकर विभाग ने लालू की पत्नी राबड़ी देवी, बेटे तेजस्वी यादव, बेटी मीसा भारती और उनके पति शैलेष, बेटी रागिनी और बेटी चंदा की प्रॉपर्टी जब्ती का नोटिस जारी किया है. जब्त संपत्ति में दिल्ली के जमीन, प्लॉट और भवन तथा पटना की 9.32 करोड़ की कीमत वाली जमीन शामिल है. हालांकि वर्तमान बाजार रेट के अनुसार आयकर अधिकारी इसकी कीमत 170-180 करोड़ बता रहे हैं.    
 
अधिकारियों ने कहा कि विभाग ने बेनामी लेनदेन कानून, 1988 के तहत अस्थायी आदेश के जरिये संपत्ति कुर्क की है. यह कानून पिछले साल 1 नवंबर से लागू हुआ था.

अधिकारियों ने बताया कि ये संपत्ति बेनामी कब्जे में थीं. विभाग द्वारा पिछले महीने की गई छापेमारी के बाद यह कार्रवाई की गई है. कुर्क संपत्ति के मूल्य का तत्काल पता नहीं चल पाया है. बेनामी संपत्ति में लाभार्थी वह व्यक्ति नहीं होता, जिसके नाम से संपत्ति खरीदी गई है.

अधिकारियों का कहना है कि वे इस मामले में लालू की सांसद पुत्री मीसा भारती और उनके पति शैलेश कुमार से पूछताछ करना चाहते हैं. भारती और उनके पति पूर्व में आयकर विभाग के समन पर पेश नहीं हुए थे.

इस मामले में भारती और अन्य लोगों से जुड़े चार्टर्ड अकाउंटेंट राजेश कुमार अग्रवाल को प्रवर्तन निदेशालय ने 22 मई को गिरफ्तार किया था. अधिकारियों ने कहा कि भारती और कुमार को जारी समन इस मामले में जांच का हिस्सा है. विभाग उनका बयान दर्ज करना चाहता है. कर अधिकारियों ने कहा था कि मीसा ने कुछ संपत्तियां बेनामी तरीके से रखी हैं, जो जांच के घेरे में हैं. उधर, लालू यादव ने इसे बीजेपी की बदले की कार्रवाई करार दिया है. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement