NDTV Khabar

सुशील मोदी का लालू परिवार पर एक और वार, कहा- खनन माफियाओं से जुड़ा है लालू परिवार

सुशील कुमार मोदी ने लालू परिवार फिर आरोप लगाते हुए कहा कि लालू परिवार की बेनामी संपत्ति अवैध बालू खनन माफिया खरीद रहे हैं और राजद की 27 अगस्त को पटना में प्रस्तावित रैली में खर्च होने वाली राशि की उगाही भी बालू माफिया ही कर रहे हैं.

6 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
सुशील मोदी का लालू परिवार पर एक और वार, कहा- खनन माफियाओं से जुड़ा है लालू परिवार

सुशील कुमार मोदी ने इस बार लालू परिवार पर रेत खनन माफियाओं से जुड़े होने का आरोप लगाया है ()

खास बातें

  1. 27 अगस्त को पटना में होने जा रही है राजद की रैली
  2. रैली के लिए उगाही कर रहे हैं बालू माफिया- सुशील मोदी
  3. बालू खनन कंपनियों को लालू प्रसाद का संरक्षण हासिल
पटना: बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने एक बार फिर लालू परिवार पर घोटालों में शामिल होने का आरोप लगाया है. इस बार उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू प्रसाद का बालू माफिया से संबंध हैं. उन्होंने कहा कि लालू परिवार की बेनामी संपत्ति अवैध बालू खनन माफिया खरीद रहे हैं और राजद की 27 अगस्त को पटना में प्रस्तावित रैली में खर्च होने वाली राशि की उगाही भी बालू माफिया ही कर रहे हैं. 

यह भी पढ़ें: सुशील मोदी ने कसा तंज, कहा- लालू परिवार की नई पीढ़ी भूलती जा रही है संस्‍कार

लालू प्रसाद के परिवार पर आरोप लगाने का सिलसिला जारी रखते हुए मोदी ने पटना में एक संवाददाता सम्मेलन में आरोप लगाया कि लालू प्रसाद ने अपना काला धन बालू माफिया सुभाष प्रसाद यादव की कंपनियों के जरिए सफेद कराया. 

यह भी पढ़ें: सुशील कुमार मोदी ने अकेले दम लालू परिवार का किला ढहाया, जानें 5 अहम बातें

उन्होंने कागजात दिखाते हुए कहा कि बालू माफिया सुभाष की कंपनी ब्रोडसोन कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड को पटना, भोजपुर और सारण जिले में बालू खनन का पट्टा मिला हुआ है, जिसकी वर्ष 2017 के लिए बंदोबस्ती राशि कुल 166 करोड़ रुपये है. इन पट्टों में भोजपुर की बंदोबस्ती राशि 102.99 करोड़, पटना की 59 करोड़ 26 लाख तथा सारण जिले का तीन करोड़ 78 लाख रुपये हैं.

इसी तरह बालू माफिया सुभाष की दूसरी कंपनी वंशीधर कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड को वैशाली एवं जहानाबाद जिले का बालू खनन का पट्टा मिला हुआ है, जिसका वर्ष 2017 की बंदोबस्ती राशि 21 करोड़ 50 लाख रुपये है. इसी तरह सुभाष की एक और कंपनी मोर मुकुट प्राइवेट लिमिटेड को अरवल जिले का बालू खनन का पट्टा मिला है, जिसकी बंदोबस्ती राशि वर्ष 2017 में 12 करोड़ नौ लाख रुपये है. 

उन्होंने सुभाष प्रसाद यादव को लालू प्रसाद का दाहिना हाथ बताते हुए कहा कि इन तमाम कंपनियों को लालू प्रसाद और प्रेम गुप्ता का संरक्षण हासिल है. 

सुशील मोदी ने कहा कि मरछिया देवी कॉम्प्लेक्स के तीन फ्लैट बालू माफिया सुभाष यादव ने अलग-अलग बालू कंपनियों के माध्यम से एक करोड़ 72 लाख देकर खरीद लिया है. इस अपार्टमेंट के 18 फ्लैट राबड़ी देवी के नाम पर हैं.

VIDEO: लालू बेनामी संपत्ति के बारे में बता देते तो गठबंधन नहीं टूटता: सुशील मोदी उन्होंने सवालिया लहजे में कहा कि आखिर बालू माफियाओं ने ही क्यों एक ही दिन 13 जून, 2017 को एक नहीं, बल्कि तीन फ्लैट एक साथ लालू परिवार से खरीद लिया? जब लगातार बेनामी संपत्ति के खुलासे हो रहे थे, उसी दौरान 12 जून, 2017 को किसी कंपनी ने एक साथ तीन फ्लैट खरीदने की हिम्मत कैसे की? राबड़ी के फ्लैट किसी और ने नहीं, बल्कि बालू माफियाओं ने ही क्यों खरीदा? 

इन आरोपों पर पलटवार करते हुए राजद विधायक भाई वीरेंद्र ने कहा कि सुशील मोदी 27 अगस्त की हमारी रैली को विफल करने के मकसद से गलत आरोप लगा रहे हैं. उन्होंने कहा कि जो लोग रैली को सफल बनाने के लिए मेहनत कर रहे हैं, उन लोगों को जान-बूझकर फंसाने की साजिश रची जा रही है. 

(इनपुट आईएएनएस से)
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement