NDTV Khabar

मीसा भारती से जुड़े आयकर के मामले पर लालू ने चुप्पी साधी, कहा- राजनीतिक प्रतिशोध पर कुछ नहीं बोलते

विपक्षी दलों की बैठक में भाग लेने के लिए दिल्ली रवाना हुए लालू यादव, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार नहीं गए

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मीसा भारती से जुड़े आयकर के मामले पर लालू ने चुप्पी साधी, कहा- राजनीतिक प्रतिशोध पर कुछ नहीं बोलते

लालू प्रसाद यादव ने मीसा भारती पर आयकर के मामले पर कहा कि 'हम राजनीतिक प्रतिशोध पर कुछ नहीं बोलते.'

खास बातें

  1. लालू को आयकर के नोटिस का भी राजनीति के लिए इस्तेमाल में परहेज नहीं
  2. फिर विवादास्पद बयान दिया - महागठबंधन के बड़े भाई हैं
  3. लालू यादव का दावा - बिहार का महागठबंधन मजबूत
पटना: राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू यादव का कहना है कि ''हम राजनीतिक प्रतिशोध पर कुछ नहीं बोलते.'' बुधवार को उनकी बड़ी बेटी और राज्यसभा सांसद मीसा भारती व उनके पति शैलेश कुमार को आयकर विभाग द्वारा पूछताछ के लिए बुलाए जाने की खबर के बाद लालू यादव ने आज दिल्ली रवाना होने से पहले यह प्रतिक्रिया दी. लालू विपक्षी दलों की बैठक में भाग लेने के लिए दिल्ली गए हैं. लालू के रुख से स्पष्ट है कि वे मीसा और उनके पति के खिलाफ आयकर विभाग के मामले पर कुछ बोलना नहीं चाहते. हालांकि उन्होंने यह संकेत भी दे दिया कि आयकर के नोटिस को भी अपनी राजनीति के लिए इस्तेमाल करने से उन्हें परहेज नहीं है. उधर मीसा और शैलेश फिलहाल इस मामले पर मीडिया से कुछ भी बात करने से बच रहे हैं.  

गौरतलब है कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने शुक्रवार को विपक्षी दलों की बैठक आहूत की है. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इस बैठक में भाग नहीं ले रहे हैं. जेडीयू के शरद यादव इस बैठक में भाग लेंगे.

लालू ने दिल्ली जाने से पहले एक बार फिर ये विवादास्पद बयान दिया कि वे महागठबंधन के बड़े भाई हैं. जनता दल यूनाइटेड और इसके  राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार को इस रुख पर खासी आपत्ति रही है कि सार्वजनिक मंच से लालू हो या तेजस्वी, वे आखिर यह क्यों जताने की कोशिश करते हैं कि वे गठबंधन में बड़े भाई हैं. हालांकि लालू यादव को भी इस बात का अंदाजा है कि नीतीश और उनकी पार्टी के कार्यकर्ताओं को उनके इस तरह के बयान से बुरा लगता है. लेकिन जनता दल यूनाइटेड के नेताओं  का मानना है कि दरअसल लालू ऐसे बयान देकर प्रशासनिक अधिकारियों पर अपनी धाक जमाए रखना चाहते हैं.  

टिप्पणियां
शुक्रवार को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की बैठक का एजेंडा क्या है? इस सवाल पर लालू यादव ने माना कि फिलहाल उन्हें भी एजेंडा के बारे में बताया नहीं गया. लालू ने दावा किया कि बिहार का महागठबंधन मजबूत है और नीतीश कुमार के इस बैठक में शामिल न होने के कारण अकारण इतनी अटकलें लगाई जा रही हैं. लालू ने कहा कि जब शरद यादव जा रहे  हैं और नीतीश कुमार की बातचीत सोनिया गांधी से हो गई है तो मीडिया द्वारा उनके इस बैठक में न जाने पर इतनी मीनमेख निकालना उचित नहीं है. लालू ने दोहराया कि नीतीश अपने सरकारी कार्यक्रमों की व्यस्तता के कारण शुक्रवार की बैठक में मौजूद नहीं रहेंगे.  

इस बीच आयकर विभाग की जांच शुरू होने पर जहां लालू के करीबी लोगों का कहना है कि मामले में कोई ज्यादा दम नहीं वहीं आयकर विभाग के अधिकारी दावा कर रहे हैं कि भले ही लालू और उनके परिवार के लोग पाक साफ होने का दावा करें लेकिन जो चार्टर्ड एकाउंटेंट से पूछताछ के बाद उन्हें मालूम चला है एवं उसके आधार पर कहा जा सकता है कि आने वाले दिनों में लालू और उनके बेटे-बेटियों की मुश्किलें काफी बढ़ सकती हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement