PM की चौखट तक पहुंची JDU-LJP की जंग, चिराग पासवान ने खत लिखकर कहा - नीतीश सरकार से खुश नहीं जनता : रिपोर्ट

Bihar Assembly Election 2020: सूत्रों ने कहा, "पासवान ने पत्र में कहा कि लोग बिहार सरकार के कामकाज से खुश नहीं है और इसका असर बिहार के विधानसभा चुनाव पर पड़ सकता है." 

PM की चौखट तक पहुंची JDU-LJP की जंग, चिराग पासवान ने खत लिखकर कहा - नीतीश सरकार से खुश नहीं जनता : रिपोर्ट

चिराग पासवान प्रधानमंत्री मोदी को लिखा पत्र

खास बातें

  • विधानसभा चुनाव से पहले जेडीयू-एलजेपी के बीच बढ़ती तल्खी
  • चिराग पासवान को पीएम मोदी को लिखा खत
  • बिहार सरकार के कामकाज से जनता नाखुश : पासवान
पटना:

बिहार में विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election) से पहले एनडीए के सहयोगी दलों जेडीयू (JDU) और लोजपा (LJP) के बीच कलह खुलकर सामने आने लगी है. लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) के अध्यक्ष चिराग पासवान (Chirag Paswan) ने बिहार की राजनीतिक स्थिति के बारे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) को चिट्ठी लिखकर जानकारी दी है. सूत्रों के मुताबिक, पासवान ने पत्र में कहा कि बिहार सरकार के कामकाज से लोग नाखुश हैं और इसका असर विधानसभा चुनावों पर पड़ सकता है.

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, सूत्रों ने सोमवार को कहा कि पत्र के जरिये चिराग पासवान ने बिहार सरकार कैसा काम रही है और राज्य में कोरोनावायरस (COVID-19)  महामारी की जमीनी हकीकत के बारे में चर्चा की है. यह पत्र अभी तक सार्वजनिक नहीं हुआ है. 

सूत्रों ने कहा, "पासवान ने पत्र में एलजेपी बिहार के संसदीय बोर्ड की बैठक में मिली प्रतिक्रिया का भी उल्लेख किया है. बिहार में नौकरशाही किस तरह से काम कर रही है, इसका भी जिक्र किया गया है. साथ ही राज्य में कोरोना की जमीनी हकीकत और सरकार वायरस से किस तरह निपट रही है, इसका भी जिक्र किया गया है." 

सूत्रों ने कहा, "पासवान ने पत्र में कहा कि लोग बिहार सरकार के कामकाज से खुश नहीं हैं और इसका असर बिहार के विधानसभा चुनाव पर पड़ सकता है." 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

सत्तारूढ़ जनता दल-यूनाइटेड (JDU) की लोकप्रियता के बारे में जानने के लिए एलजेपी ने 16 सितंबर को अपने सांसदों की बैठक बुलाई है. सूत्रों के मुताबिक, जेडीयू और उसके नेताओं के साथ जिन मुद्दों पर टकराव है, उन पर चर्चा करने के लिए एलजेपी ने यह बैठक बुलाई है. 

वीडियो: विधानसभा चुनाव से पहले बिहार को सौगात