NDTV Khabar

राम मनोहर लोहिया की पुण्यतिथि पर 12 अक्टूबर को बिहार में महागठबंधन का कार्यक्रम, तेजस्वी के शामिल होने पर संशय

बिहार में विपक्षी महागठंधन में शामिल पांच दल आगामी 12 अक्टूबर को पटना स्थित बापू सभागार में समाजवादी नेता राम मनोहर लोहिया की पुण्यतिथि के अवसर पर एक कार्यक्रम का आयोजन करेंगे. कांग्रेस मुख्यालय सदाकत आश्रम में महागठबंधन (राजद, कांग्रेस, रालोसपा, हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (सेक्युलर) और विकासशील इंसान पार्टी) की एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए रालोसपा प्रमुख और पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा जो कि इस समारोह के संयोजक भी हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
राम मनोहर लोहिया की पुण्यतिथि पर 12 अक्टूबर को बिहार में महागठबंधन का कार्यक्रम, तेजस्वी के शामिल होने पर संशय

आरएलएसपी नेता उपेंद्र कुशवाहा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कार्यक्रम की जानकारी दी

पटना:

बिहार में विपक्षी महागठंधन में शामिल पांच दल आगामी 12 अक्टूबर को पटना स्थित बापू सभागार में समाजवादी नेता राम मनोहर लोहिया की पुण्यतिथि के अवसर पर एक कार्यक्रम का आयोजन करेंगे. कांग्रेस मुख्यालय सदाकत आश्रम में महागठबंधन (राजद, कांग्रेस, रालोसपा, हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (सेक्युलर) और विकासशील इंसान पार्टी) की एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए रालोसपा प्रमुख और पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा जो कि इस समारोह के संयोजक भी हैं, ने बताया कि पंद्रह दिन पहले हुई महागठबंधन की बैठक में सभी घटक दलों ने सर्वसम्मति से विपक्ष और मीडिया की आवाज दबाने का प्रयास कर रही भाजपा के तानाशाही शासन जो कि लोकतंत्र में शर्मनाक है, का विरोध करने के लिए कार्यक्रम आयोजित करने का निर्णय लिया. उन्होंने कहा इसी रणनीति के तहत महागठबंधन 12 अक्टूबर को पटना स्थित बापू सभागार में राम मनोहर लोहिया की पुण्यतिथि मनाने के लिए एक कार्यक्रम आयोजित करेगा जिसमें इस गठबंधन के घटक दलों के सभी प्रमुख नेता उपस्थित रहेंगे और एकजुटता का प्रदर्शन करेंगे.

एनडीए को हराने के RJD नेता रघुवंश प्रसाद ने दिया सभी दलों के विलय का सुझाव


संवाददाता सम्मेलन में उपस्थित न तो कुशवाहा और न ही राजद विधायक कुमार सर्वजीत ने स्पष्ट किया कि राजद नेता तेजस्वी प्रसाद यादव इस कार्यक्रम में शामिल होंगे या नहीं. कुशवाहा ने कहा कि समारोह में भाग लेने के लिए उन्होंने वाम दलों के नेताओं को भी आमंत्रित किया है। लोहिया के कांग्रेस के खिलाफ मुखर रहने के बारे में पूछे जाने पर कुशवाहा ने कहा कि यह पूरी तरह से सही नहीं है क्योंकि उन्होंने अपनी राजनीति की शुरुआत इसी दल से की थी पर बाद में अपने रास्ते अलग कर लिए थे. यह पूछे जाने पर कि क्या जदयू को महागठबंधन में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया जाएगा, कुशवाहा ने कहा कि यह आपका (मीडिया का) विषय है. इस सवाल को दोहराए जाने पर कांग्रेस नेता अखिलेश प्रसाद सिंह ने कहा कि इसका जवाब तभी दिया जा सकता है जब वह (नीतीश कुमार) भाजपा से नाता तोड़ लेते हैं. यह पूछे जाने पर कि क्या कांग्रेस, जदयू को महागठबंधन में शामिल करने के लिए इच्छुक है, कांग्रेस राज्य इकाई के अध्यक्ष मदन मोहन झा ने कहा कि यह एक काल्पनिक सवाल है। पहले जदयू की ओर से प्रस्ताव तो आए. 

बिहार चुनाव को लेकर जेडीयू का नया नारा, 'क्यूं करें विचार, ठीके तो है नीतीश कुमार'

उन्होंने कहा कि जदयू की ओर से अगर कोई प्रस्ताव आता है तो इस बारे में कांग्रेस आलाकमान द्वारा निर्णय लिया जाएगा. महागठबंधन के इस संवाददाता सम्मेलन में कुशवाहा के अलावा बिहार प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मदन मोहन झा, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सदस्य अखिलेश प्रसाद सिंह, विकासशील इंसान पार्टी प्रमुख मुकेश साहनी, राजद विधायक कुमार सर्वजीत और पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी की पार्टी हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (सेक्युलर) के नेता अनिल रजक मौजूद थे.

टिप्पणियां

क्या तेजस्वी यादव होंगे बिहार में महागठबंधन का चेहरा?​



NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement