NDTV Khabar

पहले सजाई चिता, फिर जिंदा पत्नी को कफन में लपेट लिटाया, देने वाले थे मुखाग्नि तभी पहुंची पुलिस

पुलिस (Bihar Police) ने पीड़ित महिला से पूछताछ के बाद बताया कि महिला ने आरोप लगाया है कि उसके ससुराल वाले उसे बीते लंबे समय से प्रताड़ित कर रहे हैं

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पहले सजाई चिता, फिर जिंदा पत्नी को कफन में लपेट लिटाया, देने वाले थे मुखाग्नि तभी पहुंची पुलिस

बिहार में महिला को जिंदा जलाने की कोशिश की गई

खास बातें

  1. पुलिस ने आरोपियों की तलाश के लिए शुरू किया अभियान
  2. महिला ने ससुराल पक्ष पर लगाया प्रताड़ित करने का आरोप
  3. पुलिस कर रही है पूरे मामले की जांच
पटना:

बिहार (Bihar Police) से रिश्तों को शर्मसार करने वाली एक घटना सामने आई है. जहां पति ने अपनी जिंदा पत्नी को ही चिता पर लिटा कर उसे मुखाग्नि देने की तैयारी में था. लेकिन इससे ठीक पहले पुलिस (Bihar Police) ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने आरोपी की पहचान रवीन्द्र ठाकुर के रूप में की है. पूरी घटना संदेश थाना क्षेत्र के सारीपुर बालू घाट की है. पुलिस (Bihar Police) ने पीड़ित महिला से पूछताछ के बाद बताया कि महिला ने आरोप लगाया है कि उसके ससुराल वाले उसे बीते लंबे समय से प्रताड़ित कर रहे हैं. महिला का कहना है कि उसकी शादी के 13 वर्ष हो गए हैं और उसे संतान नहीं हुआ है. इसी बात को लेकर उसे ससुराल वाले उसे लगातार तंग कर रहे थे. पुलिस (Bihar Police) के अनुसार महिला को यह नहीं पता कि वह अस्पताल से सीधे चिता पर कैसे पहुंच गई.

यह भी पढ़ें: यूपी में महिला से पहले छेड़छाड़, फिर लगा दी आग, 3 पुलिसकर्मी निलंबित


मौके पर पहुंची ने उसे चिता से उतारा और फिर इलाज के लिए पास के अस्पताल में भर्ती कराया है. पुलिस फिलहाल इस मामले आरोपियों की तलाश कर रही है. घटना के बाद से महिला के ससुराल के लोग फरार हैं. पुलिस अधिकारी अवधेश सिंह ने बताया कि हमें स्थानीय लोगों से सूचना मिली थी कि आरोपी महिला को जिंदा ही जलाने की तैयारी में है. इसके बाद मैं एएसआई कैशर अली के साथ मौके पर पहुंचा.

यह भी पढ़ें: झारखंड : आग से झुलसी नाबालिग दुष्कर्म पीड़िता की मौत

मौके पर जाने के बाद हमनें देखा कि आरोपी पीड़ित महिला को जलाने जाने रहे हैं, लेकिन मौके पर पुलिस को देखते ही सभी भाग गए. पुलिस इस मामले की फिलहाल जांच कर रही है. गौरतलब है कि महिला को आग के हवाले करने की यह कोई पहली घटना नहीं है. इससे पहले उत्तर प्रदेश के सीतापुर में दो लोगों ने एक महिला को कथित तौर पर आग के हवाले कर दिया था. हालांकि, महिला की जान बच गई. हैरान करने वाली बात है कि 28 साल की महिला ने दो बार पुलिस में शिकायत करने की कोशिश भी की, मगर स्थानीय पुलिस थाने के पुलिसवालों ने उसे वापस लौटा दिया था.

यह भी पढ़ें: यूपी में दलित परिवार को जिंदा जलाने की कोशिश, सूचना के बावजूद पुलिस गायब

बताया जा रहा था कि महिला का शरीर 60 फीसदी जल चुका है और अभी वह सीतापुर के अस्पताल में गंभीर हालत में है. हालांकि, दोनों आरोपी राजेश और रामू को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था और उनके खिलाफ यौन शोषण और हत्या का प्रयास का मामला दर्ज किया था. पुलिस ने कहा था कि काम में लापरवाही के चलते स्टेशन हाउस ऑफिसर यानी एसएचओ समेत तीन पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है. 

VIDEO: यूपी में महिला को जिंदा जलाने की कोशिश.

 

 

टिप्पणियां

 

 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement