NDTV Khabar

सिर्फ न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ाने से किसानों की समस्या का समाधान नहीं होगा: नीतीश कुमार

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का मानना है कि न्यूनतम समर्थन मूल्य में वृद्धि से किसानों की सभी समस्या का समाधान नहीं होगा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सिर्फ न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ाने से किसानों की समस्या का समाधान नहीं होगा: नीतीश कुमार

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार. (फाइल फोटो)

पटना: भले ही भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हाल में कई खाद्यानों के न्यूनतम समर्थन मूल्य में वृद्धि को अपनी बड़ी उपलब्धि बता रहे हों, लेकिन बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का मानना है कि इससे किसानों की सभी समस्या का समाधान नहीं होगा. नीतीश ने सोमवार को साफ़-साफ़ कहा कि जैसा केंद्र सरकार के कृषि बीमा योजना की जगह उन्होंने फ़सल सहायता योजना की शुरुआत की उसी तरह जब तक किसानो को इनपुट सब्सिडी की व्यवस्था नहीं होती तब तक उनका लागत कम नहीं होगा.

यह भी पढ़ें : 14 फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ा, कांग्रेस ने उठाया सवाल

नीतीश कुमार ने फ़िलहाल बिहार के चार जिलों में ऑर्गेनिक सब्ज़ी के उत्पादन पर इनपुट सब्सिडी की योजना पाइलट परियोजना के रूप में शुरू की है. उन्होंने कहा कि इससे किसानों की पूंजी घट जाएगी. इससे लागत कम होगी और नुक़सान होने पर उन्हें ज़्यादा भार नहीं वहन करना होगा.

यह भी पढ़ें :  2019 को ध्यान में रखते हुए सरकार ने धान का समर्थन मूल्य 200 रुपये प्रति क्विंटल बढ़ाया

हालांकि न्यूनतम समर्थन मूल्य पर जो विवाद शुरू हुआ है उसपर नीतीश ने कहा कि इसपर केंद्र की एक संस्था बनी हुई है और वही इसका समाधान कर सकती है. लेकिन नीतीश ने माना कि फ़िलहाल पूरे देश में चावल और गेहूं के अधिप्रपति की व्यवस्था हैं जो सीधे पीडीएस में जाता है, लेकिन अन्य खाद्यान के बारे में भंडारण की व्यवस्था है इसलिए केवल न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ा देने से किसानों की समस्या का हल नहीं हो जाएगा.

टिप्पणियां
VIDEO: किसान कराएंगे बेड़ा पार!


उन्होंने माना कि ये पूरा काम उतना सहज और साधारण नहीं है. इस मुद्दे पर नीतीश के रुख से साफ है कि वह केंद्र की नीति से बहुत सहमत नहीं हैं. उनके अनुसार केंद्र को इस मुद्दे पर और अधिक विचार विमर्श करना चाहिए था. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement