NDTV Khabar

सुशील मोदी का दावा - मीसा भारती के CA ने 1.20 करोड़ रुपये की मनी लॉन्ड्रिंग स्वीकारी

भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने मंगलवार को दावा किया कि राज्यसभा सदस्य मीसा भारती के गिरफ्तार चाटर्ड एकाउंटेंट राजेश अग्रवाल ने प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के समक्ष स्वीकारा है कि एक शेल कंपनी के जरिए 1.20 करोड़ रुपये के कालेधन को सफेद बनाया.

4 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
सुशील मोदी का दावा - मीसा भारती के CA ने 1.20 करोड़ रुपये की मनी लॉन्ड्रिंग स्वीकारी

सुशील मोदी ने दावा किया कि 1.20 करोड़ रुपये की राशि से मीसा ने दिल्ली के बिजवासन इलाके में एक फार्म हाउस खरीदा...

पटना: भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने मंगलवार को दावा किया कि राज्यसभा सदस्य मीसा भारती के गिरफ्तार सीए राजेश अग्रवाल ने प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के समक्ष स्वीकारा है कि एक शेल कंपनी के जरिए 1.20 करोड़ रुपये के कालेधन को सफेद बनाया. सुशील ने यह भी दावा किया कि इस 1.20 करोड़ रुपये की राशि से मीसा ने दिल्ली के बिजवासन इलाके में एक फार्म हाउस खरीदा. हालांकि इस आरोप पर मीसा भारती की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है.
 
उन्होंने कहा कि मीडिया में आयी रिपोर्ट के अनुसार राज्यसभा सदस्य मीसा भारती के आज गिरफ्तार चाटर्ड एकाउंटेंट राजेश अग्रवाल ने प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के समक्ष स्वीकारा है कि मिशैल पकर्स एंड प्रिंटर्स प्रा0 लि0 नामक शेल कंपनी के जरिए 1.20 करोड़ रुपये का कालाधन को सफेद बनाया गया. गत 13 मार्च को राजद प्रमुख लालू प्रसाद की बड़ी पुत्री मीसा भारती पर उक्त आशय का आरोप लगाने वाले सुशील ने कहा कि डिलाइट मार्केटिंग प्रा0 लि0 की दो बीघा जमीन जिस पर मॉल का निर्माण किया जा रहा है, जिसको छोड़कर लालू के परिवार अन्य बेनामी संपत्तियों के बारे में न तो स्वीकारा है और न ही इनकार किया है.
 
बिहार विधान परिषद में प्रतिपक्ष के नेता सुशील ने कहा कि लालू के परिवार को केएचके होल्डिंग, एबी एक्सपोर्ट, एके इंफोसिस्टम्स जिसके जरिए उन्होंने बेनामी संपत्ति इकट्ठा के बारे में जनता को बताना चाहिए, नहीं तो ईडी द्वारा इन शेल कंपनियों के खिलाफ कार्रवाई किए जाने पर उन्हें बेवजह शोर नहीं मचाना चाहिए.
 
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के भ्रष्टाचार को लेकर जीरो टालरेंस की नीति का उल्लेख करते हुए सुशील ने उनसे अपील किया कि नीतीश कुमार को बिहार सरकार के क्षेत्राधिकार में पड़ने वाले शेल कंपनियों के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए. उन्होंने महागठबंधन में शामिल राजद के नेतृत्व का बचाव नहीं करने के लिए जदयू की तारीफ करते हुए कांग्रेस और राजद से केंद्रीय एजेंसी को अपना काम करने देने को कहा. सुशील ने कहा कि आप (राजद) अपनी रैली करें. कौन इसे करने से रोक रहा है. कोई भी उक्त रैल से भयभीत नहीं है. राजद के विधायकों की संख्या 170 से घटकर अब 80 हो गई है. नीतीश कुमार की तरह लालू प्रसाद के लिए भी सत्ता बने रहना मजबूरी है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement