NDTV Khabar

बिहार में छठ पर्व के दौरान हादसों में 20 से ज्यादा लोगों की मौत

समस्तीपुर में छठ के घाट पर एक परिवार ने तो एक साथ अपने बेटे-बेटी को खो दिया

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बिहार में छठ पर्व के दौरान हादसों में 20 से ज्यादा लोगों की मौत

प्रतीकात्मक फोटो

खास बातें

  1. डूब रही बहन को बचाने की कोशश में भाई भी डूब गया
  2. बिहार में डूबने, दुर्घटनाओं और अपराधों में 40 से ज्यादा मौतें
  3. सीएम ने डूबकर मृत लोगों के परिवारों को आर्थिक मदद देने के निर्देश दिए
पटना: छठ पर्व की समाप्ति के दिन बिहार में कई जगह खुशियों का माहौल गमगीन हो गया. बिहार में दो दिनों में 40 से ज्यादा लोगों ने अपनी जान गंवाई. 20 से ज्यादा लोगों की छठ घाटों पर डूबने से मौत हो गई, तो वहीं 20 से ज्यादा लोग अपराध एवं सड़क दुर्घटनाओं के शिकार हुए है. समस्तीपुर में छठ के घाट पर एक परिवार ने तो एक साथ अपने बेटे और बेटी को खो दिया. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने डूबने से हुई  मौतों पर गहरा दुःख व्यक्त किया है और अविलम्ब अनुग्रह अनुदान देने के निर्देश दिए हैं.   

समस्तीपुर के आलमपुर कोदरिया पोखर में उसी गांव के निवासी विजय कुमार के बेटे रवि कुमार व बेटी काजल कुमारी की मौत डूबने से हो गई. बताया जाता है कि अर्घ्य देने के लिए दोनों भाई बहन तालाब में नहाने लगे थे. वे गहरे पानी में चले गए. वहां बहन पानी में डूबने लगी तो भाई आगे बढ़कर उसको बचाने गया. इसी क्रम में दोनों पानी में डूब गए. लोग दोनों को तालाब से निकालकर अस्पताल ले गए जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. इस दर्दनाक हादसे से पूरा गांव गमगीन हो गया.

डूबने से हुईं कई मौतें
अररिया में नहर घाट में बच्चा डूब गया जिसकी तलाश जारी है. यहीं पर छठ घाट पर तालाब में डूबने से युवक की मौत हो गई. मधेपुरा में छठ घाट पर तालाब में डूबने से किशोर की मौत हो गई. हजीपुर में तेरसिया घाट में युवक की डूबने से मौत हो गई. हाजीपुर में ही मदुरापुर घाट पर नदी में एक युवक गया जिसकी तलाश जारी है. इसी जिले में वाया नदी में एक 12 ‌‌वर्षीय बालक डूब गया जिसे खोजा जा रहा है. बांका में अर्ध्य देने के दौरान तालाब में डूबे युवक की मौत हो गई. सीतामढ़ी में पोखर में डूबने से एक व्यक्ति की मौत हो गई. अरवल में छठ घाट पर डूबने से दो की मौत हो गई. समस्तीपुर में तालाब में डूबने से एक लड़की की मौत हो गई. भागलपुर में तालाब में डूबे बालक की मौत हो गई. बेगूसराय में छठ पर्व के दौरान तालाब में डूबे युवक की मौत हो गई. नालंदा में सेल्फी लेने के चक्कर में तालाब में डूबने से बच्चे की मौत हो गई. मुजफ्फरपुर में छठ घाट पर नहाने के दौरान डूबने से दो युवकों की मृत्यु हो गई. कैमूर में डेरवां के कुदरा नदी घाट पर डूबने से एक व्यक्ति की जान गई. मधेपुरा में मुरलीगंज में तालाब में डूबकर किशोर की मौत हो गई. बाढ़-भदौर के दभामा में डगराइन नदी में डूबने से एक बच्ची चल बसी. पूर्णिया में अर्ध्य देकर घर लौटने के दौरान छठव्रती महिला की मौत हो गई. कैमूर में तैराकी प्रतियोगिता के दौरान तालाब में डूबे युवक की मौत हो गई. मधुबनी में कमला नदी में डूबने से बच्चे की जान गई. समस्तीपुर में धाव के पानी में डूबे दो युवकों की तलाश जारी है. राज्य के कई जिलों में सड़क दुर्घटनाएं हुईं जिससे अनेक लोगों की जान गई. इसके अलावा हत्या की वारदातें भी हुईं.

टिप्पणियां
VIDEO : ट्रेनों में भारी भीड़

बिहार आपदा प्रवंधन विभाग ने  पुष्टि  करते हुए बताया कि छठ पर्व के दौरान दो दिनों में 10 जिलों में 16 की मौत डूबकर हुई है. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इन मौतों पर गहरा दुख व्यक्त किया है, और इन परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की है. मुख्यमंत्री ने संबंधित जिलाधिकारियों को मृतकों के परिजनों को अविलम्ब चार-चार लाख रुपये की राशि के अनुग्रह अनुदान के भुगतान का निर्देश दिया है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement