NDTV Khabar

राफेल पर शरद पवार ने मोदी सरकार का किया समर्थन, तो नाराज तारिक अनवर ने पार्टी छोड़ी, लोकसभा से भी इस्तीफा

बिहार के कटिहार से लोकसभा सांसद तारिक अनवर ने लोकसभा और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) से इस्तीफा दे दिया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
राफेल पर शरद पवार ने मोदी सरकार का किया समर्थन, तो नाराज तारिक अनवर ने पार्टी छोड़ी, लोकसभा से भी इस्तीफा

एनसीपी सांसद तारिक अनवर का इस्तीफा

खास बातें

  1. तारिक अनवर ने लोकसभा और एनसीपी से इस्तीफा दे दिया
  2. शरद पवार ने राफेल मुद्दे पर पीएम मोदी को क्लीन चिट दी थी
  3. अमित शाह ने अपने ट्वीट कर शरद पवार की तारीफ की थी
नई दिल्ली: बिहार के कटिहार से लोकसभा सांसद तारिक अनवर ने लोकसभा और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) से इस्तीफा दे दिया है. बताया जा रहा है कि राफेल पर मोदी सरकार का समर्थन करने की वजह से एनसीपी चीफ शरद पवार से तारिक अनवर नाराज थे. यही वजह है कि तारिक अनवर ने इस्तीफा दिया है. दरअसल, गुरुवार को राकांपा अध्यक्ष शरद पवार ने कहा था कि लोगों को राफेल सौदे में प्रधानमंत्री की मंशा पर ‘कोई संदेह नहीं है.’

राहुल गांधी बोले- हम चाहते हैं, आपके फोन और शर्ट के पीछे और जूते के नीचे मेड बाई HAL लिखा हो

आपको बता दें कि एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार ने राफेल मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को क्लीन चिट दे दी थी. पवार ने कहा था कि प्रधानमंत्री की मंशा पर ‘कोई संदेह नहीं है.’पवार ने कहा था कि विमान से संबंधित तकनीकी जानकारियां साझा करने की विपक्ष की मांग में ‘कोई तुक नहीं है.’ हालांकि उन्होंने कहा था कि विमान के दामों का खुलासा करने में कोई नुकसान नहीं है.

राफेल पर राहुल गांधी की तुकबंदी- जिस अफसर ने चोरी से रोका, ठगों के सरदार ने उसको ठोका

एनसीपी प्रवक्ता नवाब मलिक ने पार्टी की इस मांग को दोहराया कि केन्द्र सरकार लड़ाकू विमानों के दाम का खुलासा करे और इस मामले में संयुक्त संसदीय समिति (जेपीसी) द्वारा जांच हो. एक मराठी समाचार चैनल को दिये साक्षात्कार में पवार ने कहा था कि उन्हें नहीं लगता कि लोगों को राफेल सौदे पर मोदी की मंशा पर कोई संदेह है. मलिक ने कहा कि पवार के बयान को लेकर मीडिया में आई खबरें ‘भ्रम फैलाने वालीं और गुमराह करने वालीं’ हैं.

रक्षा मंत्रालय की फाइल से खुले राज़, रफाल के कम दाम से किसे था एतराज़

वहीं अमित शाह ने अपने ट्वीट में कहा, ‘मैं पूर्व रक्षा मंत्री और वरिष्ठ नेता शरद पवार का दलगत राजनीति से ऊपर राष्ट्रहित को रखने और सच बोलने के लिये उनकी सराहना करता हूं . प्रिय राहुल गांधी, आपको सहयोगी और शरद पवार के जैसे कद्दावर नेता पर भरोसा करना चाहिए.’ उन्होंने अपने ट्वीट में कांग्रेस अध्यक्ष को भी जोड़ा जिसके साथ शरद पवार के बयान की खबर संलग्न थी. ऐसे समय में जब राफेल सौदा मामले में कांग्रेस नीत विपक्ष सरकार पर निशाना साध रही है, राकांपा अध्यक्ष शरद पवार ने एक मराठी चैनल को साक्षात्कार में कहा है कि लोगों को मोदी की मंशा पर संदेह नहीं है. अमित शाह ने गुजरात में सरदार पटेल की प्रतिमा को मेड इन चाइना बताने के लिये भी राहुल गांधी पर निशाना साधा. 

राफेल डील पर राहुल गांधी बोले: PM मोदी ने बदला पुराना कॉन्ट्रैक्ट, HAL से छीनकर अपने दोस्त को डील दी

बीजेपी अध्यक्ष ने कहा, ‘राहुल गांधी, आपके परिवार ने सरदार पटेल का अपमान किया, लोगों के दिलों में बसी उनकी विरासत को मिटाने का असफल प्रयास किया .’ उन्होंने ट्वीट किया, ‘स्टैच्यू आफ यूनिटी पर आपका झूठ सरदार पटेल के प्रति घृणा का एक अन्य प्रदर्शन है.’ शाह ने कहा कि ऐसे समय में जब भारत एकजुट होकर भव्य ‘स्टैच्यू आफ यूनिटी’ का निर्माण कर सरदार पटेल को श्रद्धांजलि दे रहा है, कांग्रेस अध्यक्ष परियोजना को लेकर झूठी अफवाह फैलाने में लगे हैं, शर्मनाक . 

टिप्पणियां
VIDEO: राफेल सौदे पर अब नए सवाल


 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement