फिल्मी स्टाइल को लेकर वायरल हो रहा नवादा के SP का वीडियो, बोले- मेरी औकात ठेला हटाने भर की

बिहार (Bihar) के नवादा (Nawada) शहर में भी ट्रैफिक होता है लेकिन इससे निपटने के लिए वहां के एसपी प्राणतोष कुमार (SP Prantosh Kumar) ने जो तरीका सुझाया, उसकी हर ओर तारीफ हो रही है.

फिल्मी स्टाइल को लेकर वायरल हो रहा नवादा के SP का वीडियो, बोले- मेरी औकात ठेला हटाने भर की

प्राणतोष कुमार नवादा के एसपी हैं.

खास बातें

  • नवादा के SP हैं प्राणतोष कुमार
  • नवादा में हुई थी उनकी पहली पोस्टिंग
  • सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा वीडियो
नवादा:

आज के समय में ट्रैफिक की समस्या से हर शहर दो-चार हो रहा है. ट्रैफिक से निपटने के लिए पुलिस को खासा मशक्कत करनी पड़ती है. बिहार (Bihar) के नवादा (Nawada) शहर में भी ट्रैफिक होता है लेकिन इससे निपटने के लिए वहां के एसपी प्राणतोष कुमार (SP Prantosh Kumar) ने जो तरीका सुझाया, उसकी हर ओर तारीफ हो रही है. उनका एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है. मीडिया से बातचीत में एसपी ट्रैफिक दुरुस्त करने का प्लान और अपनी उपलब्धि बता रहे हैं लेकिन साथ-साथ वह यह भी कह रहे हैं कि उन्होंने कुछ नहीं किया है.

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो में नवादा के एसपी प्राणतोष कुमार कह रहे हैं, 'हम पुलिस हैं, ट्रैफिक भी देखना है. सबसे पहले ट्रैफिक ही लोगों को इफेक्ट करता है. मैं तो ट्रैफिक एसपी था पटना में और अशोक राजपथ से लेकर गांधी सेतु तक, जो चार घंटे में पार नहीं कर पाते थे, उसे 20 मिनट में पार करा दिया. मेरे पुल बनाने की ताकत तो नहीं है, पुल तो सरकार बनाएगी, बड़े-बड़े पदाधिकारी बनाएंगे. मेरी औकात ठेला हटाने भर की है.'

नवादा को ट्रैफिक जाम से निजात दिलाने का प्लान बताते हुए एसपी आगे कहते हैं, 'प्रजातंत्र चौक है, हमने पोल डिफाइन कर दिया, आदमी लगा दिया. कोई ऑटो का ठहराव नहीं होगा. अगर होगा तो उसका हवा खोल दीजिए. कोई ठेला नहीं लगेगा. 100-100 गज तक नहीं होगा. वन-वे स्ट्रिक्टली फॉलो होगा. साइन बोर्ड लग रहा है. पांच हजार फाइन. नवादा मैं पहले भी पोस्टेड रहा हूं. बात समझिए, ये मेरा पहला प्यार है. फर्स्ट पोस्टिंग यहीं थी.'

ट्रैफिक जाम से परेशान होकर पुलिस स्टेशन पहुंचा शख्स, SP ने बनाया 'ऑफिसर' तो काट दिए 8 गाड़ियों के चालान

ट्रैफिक व्यवस्था के लिए खुद एसपी के सड़क पर उतरने के सवाल पर वह कहते हैं, 'हम पुलिस हैं भाई. मैं नहीं जानता हूं, मैं कोई कमेंट नहीं करता हूं लेकिन जो एसपी, जिला अफसर सड़क पर नहीं उतरते हैं, उसके बारे में और क्या कह सकता हूं. जब आप रोड पर उतरकर देखेंगे कि क्या है समस्या और ये सबसे पहले लोगों को इफेक्ट करता है. हर एसपी को रोड पर उतरना चाहिए. हम तो बोलेंगे कि अगर नहीं उतरते हैं तो गलत करते हैं. चैंबर से बैठ करके ट्रैफिक नहीं चलती, रोड पे चलती है.'

VIDEO: रेड लाइट पर ज्यादा हॉर्न बजाने वालों के लिए मुंबई ट्रैफिक पुलिस की अनोखी पहल

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com