NDTV Khabar

आखिर नितिन गडकरी ने क्‍यों कहा कि बिहार में काम करते थक गया हूं?

नितिन गडकरी बिहार में चल रही सड़क परियोजनाओं की गति पर अपना असंतोष जाहिर कर चुके हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
आखिर नितिन गडकरी ने क्‍यों कहा कि बिहार में काम करते थक गया हूं?

नितिन गडकरी ने कहा बिहार में काम करते हुए थक गया हूं

पटना: केंद्रीय भूतल परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने लोकसभा में एक प्रश्‍न के जवाब में कहा कि बिहार में काम करते करते थक गया हूं, अब सभी इस बयान के पीछे का सच जानना चाहते हैं. नितिन गडकरी बिहार में चल रही सड़क परियोजनाओं की गति पर अपना असंतोष जाहिर कर चुके हैं. लेकिन लोकसभा में उनका जवाब लिखित था जिससे ज़ाहिर है कि भावना और शब्द दोनों उनके थे. हालांकि शुक्रवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, जो निश्चित रूप से सदन में दिये गये इस बयान से व्यथित होंगे, ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी. इससे पूर्व नितिन गडकरी के एक ऐसे बयान पर लिखित रूप से जवाब देने वाली बिहार सरकार ने शुक्रवार को ऐसा कुछ नहीं किया और केवल पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव ने बिहार विधानसभा के बाहर माना कि ज़मीन अधिग्रहण एक बहुत बड़ी समस्या है क्योंकि यहां लोगों को मिट्टी और ज़मीन से बहुत लगाव रहता है.

यह भी पढ़ें: उमा भारती की बाबा रामदेव को चिट्ठी- ऐसा कोई भी जुमला मुझे हानि पहुंचा सकता है

इसके बावजूद नंदकिशोर यादव का दावा था कि ज़मीन अधिग्रहण की कारवाई बहुत तेज़ी से चल रही है. उन्होंने दावा किया कि ज़मीन अधिग्रहण के कारण किसी प्रोजेक्ट को रुकने नहीं देंगे. लेकिन जानकारों के अनुसार नितिन गडकरी को ग़ुस्सा इस बात को लेकर है कि ज़मीन अधिग्रहण के लिए पर्याप्त धन की व्यवस्था करने के बावजूद कई महत्‍वपूर्ण परियोजना जैसे पटना-बक्सर या पटना-डोभी काफ़ी धीमी गति से चल रही हैं.

यह भी पढ़ें: गंगा में जमी गाद को लेकर नीतीश ने केंद्र सरकार को लिया आड़े हाथ

टिप्पणियां
यहां तक की हाजीपुर-मुज़फ़्फ़रपुर हो या हाजीपुर-छपरा, सबकी कहानी यही है कि भूमि अधिग्रहण की धीमी गति के कारण निर्माण कार्य या तो पूरा नहीं हुआ या काम वर्षों से सुस्त गति से चल रहा है. हालांकि कई लोगों का मानना है कि नितिन गडकरी और नीतीश कुमार के बीच मामला ईगो का भी है. जब महागठबंधन की सरकार के दौरान गडकरी उस समय के पथ निर्माण मंत्री तेजस्वी यादव से उनके पिता लालू यादव से मिले थे तब नीतीश कुमार को ये बात पसंद नहीं आयी थी.

VIDEO: गडकरी ने कहा- गड्ढे भरने में नाकाम रहे हैं हम.

इसके अलावा पर्यावरण दिवस के एक कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन को संबोधित करते हुए नीतीश कुमार ने कहा था कि नितिन गडकरी को कह दीजिएगा कि गंगा की निर्मलता और अविरलता एक दूसरे के पूरक हैं और एक के बिना दूसरे की कल्पना करना बेकार है.
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement