NDTV Khabar

लैटेरल एंट्री से 10 लोगों की नियुक्ति पर नीतीश ने नरेंद्र मोदी का क्यों समर्थन किया?

नीतीश ने कई कारणों से इस निर्णय का स्वागत किया है. पहला उनके अनुसार देश के हर राज्य और केंद्र अधिकारियों की कमी से जूझ रहा है.

275 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
लैटेरल एंट्री से 10 लोगों की नियुक्ति पर नीतीश ने नरेंद्र मोदी का क्यों समर्थन किया?

बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (फाइल फोटो)

पटना: पूरे देश में अफ़सरशाही में लैटरल एंट्री के आधार पर दस लोगों की नियुक्ति के संबंध में जब से विज्ञापन आया है तब से बहस और विवाद शुरू हो गया है. लेकिन बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इस मुद्दे पर केंद्र के फ़ैसले के समर्थन में दिखे. नीतीश ने कई कारणों से इस निर्णय का स्वागत किया है. पहला उनके अनुसार देश के हर राज्य और केंद्र अधिकारियों की कमी से जूझ रहा है. इसका दोष नीतीश के अनुसार केंद्र की पूर्व की कांग्रेस सरकार के ऊपर जाता है जिन्होंने नियुक्ति में कटौती की. जिसके कारण हर राज्य में सचिव स्तर के अधिकारियों के ज़िम्मे एक से अधिक विभाग हैं.

टिप्पणियां
दूसरा नीतीश ने कहा कि अधिकारियों की कमी के कारण चाहकर भी नये जिले या अनुमंडल नहीं बना सकते. जबकि सरकार के पास कई सारी अनुशंसा लंबित रहती हैं.

नीतीश ने साफ़ कहा कि पूर्व की कांग्रेस सरकार ने बिना सोचे समझे नियुक्ति में कमी कर दी. हालांकि केंद्र के नये प्रस्ताव के बारे में उन्होंने कहा कि फ़िलहाल ये एक प्रयोग है इसलिये देखिए क्या होता है. नियुक्ति में उन्होंने कहा कि यूं तो वो आरक्षण के पक्षधर हैं लेकिन फ़िलहाल इस नियुक्ति के बारे में उन्हें बहुत जानकारी नहीं है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement