बिहार में शराबबंदी पर फजीहत झेल रही नीतीश सरकार लेगी अब कुत्तों का सहारा

बिहार में शराब का अवैध भंडारण करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने के उद्देश्य से राज्य सरकार की तेलंगाना से 20 विशेष रूप से प्रशिक्षित कुत्ते को लाने की योजना है जो सूंघ कर शराब का पता लगायेंगे. 

बिहार में शराबबंदी पर फजीहत झेल रही नीतीश सरकार लेगी अब कुत्तों का सहारा

नीतीश कुमार (फाइल फोटो)

पटना:

बिहार में जिस सक्रियता से नीतीश सरकार ने शराबबंदी लागू की थी, उसके मुकाबले परिणाम देखने को नहीं मिल रहे हैं. आये दिन बिहार में शराब भंडारण और शराबबंदी को ठेंगा दिखाने वाली खबरें आती रहती हैं. मगर अब नीतीश शरकार शराबबंदी योजना को सफल बनाने के लिए कुत्तों का सहारा लेगी. दरअसल, बिहार में शराब का अवैध भंडारण करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने के उद्देश्य से राज्य सरकार की तेलंगाना से 20 विशेष रूप से प्रशिक्षित कुत्ते को लाने की योजना है जो सूंघ कर शराब का पता लगायेंगे. 

बिहार : जिला अधिकारी कार्यालय में छलका रहे थे जाम , शराबबंदी को ठेंगा 

बिहार के अपराध अनुसंधान शाखा (सीआईडी) के अपर पुलिस महानिरीक्षक विनय कुमार ने बताया कि तेलंगाना के एकीकृत खुफिया प्रशिक्षण अकादमी (आईआईटीए) में 20 ऐसे पिल्लों को प्रशिक्षित करवाकर बिहार लाया जाएगा जो शराब के अवैध भंडारण को सूंघकर पता लगा लेंगे. उन्होंने कहा कि विस्फटकों को सूंघकर उनकी पहचान किए जाने के तर्ज पर शराब के भंडारण को सूंघकर पता लगा सकने वाले कुत्ते तैयार किए जाने के लिए सेना के साथ साथ अर्द्धसैनिक बलों से भी संपर्क साधा गया, पर ऐसे कुत्ते उपलब्ध नहीं हो पाए.

बिहार में बदलेगा शराबबंदी कानून, नीतीश कुमार ने की घोषणा

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

उन्होंने बताया कि शराब की गंध को सूंघकर पहचान कर पाने वाले ऐसे 20 प्रशिक्षित कुत्तों को​ बिहार के चारों पुलिस जोन पटना, मुजफ्फरपुर, दरभंगा और भागलपुर में वितरित किया जाएगा. विनय ने बताया कि अगर यह शुरूआती परियोजना सफल होती है तो तेलंगाना से और भी ऐसे कुत्ते मंगाये जायेंगे.

VIDEO: बिहार में शराबबंदी कानून में संशोधन होगा