NDTV Khabar

बिहार में शराबबंदी पर फजीहत झेल रही नीतीश सरकार लेगी अब कुत्तों का सहारा

बिहार में शराब का अवैध भंडारण करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने के उद्देश्य से राज्य सरकार की तेलंगाना से 20 विशेष रूप से प्रशिक्षित कुत्ते को लाने की योजना है जो सूंघ कर शराब का पता लगायेंगे. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बिहार में शराबबंदी पर फजीहत झेल रही नीतीश सरकार लेगी अब कुत्तों का सहारा

नीतीश कुमार (फाइल फोटो)

पटना: बिहार में जिस सक्रियता से नीतीश सरकार ने शराबबंदी लागू की थी, उसके मुकाबले परिणाम देखने को नहीं मिल रहे हैं. आये दिन बिहार में शराब भंडारण और शराबबंदी को ठेंगा दिखाने वाली खबरें आती रहती हैं. मगर अब नीतीश शरकार शराबबंदी योजना को सफल बनाने के लिए कुत्तों का सहारा लेगी. दरअसल, बिहार में शराब का अवैध भंडारण करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने के उद्देश्य से राज्य सरकार की तेलंगाना से 20 विशेष रूप से प्रशिक्षित कुत्ते को लाने की योजना है जो सूंघ कर शराब का पता लगायेंगे. 

बिहार : जिला अधिकारी कार्यालय में छलका रहे थे जाम , शराबबंदी को ठेंगा 

बिहार के अपराध अनुसंधान शाखा (सीआईडी) के अपर पुलिस महानिरीक्षक विनय कुमार ने बताया कि तेलंगाना के एकीकृत खुफिया प्रशिक्षण अकादमी (आईआईटीए) में 20 ऐसे पिल्लों को प्रशिक्षित करवाकर बिहार लाया जाएगा जो शराब के अवैध भंडारण को सूंघकर पता लगा लेंगे. उन्होंने कहा कि विस्फटकों को सूंघकर उनकी पहचान किए जाने के तर्ज पर शराब के भंडारण को सूंघकर पता लगा सकने वाले कुत्ते तैयार किए जाने के लिए सेना के साथ साथ अर्द्धसैनिक बलों से भी संपर्क साधा गया, पर ऐसे कुत्ते उपलब्ध नहीं हो पाए.

बिहार में बदलेगा शराबबंदी कानून, नीतीश कुमार ने की घोषणा

टिप्पणियां
उन्होंने बताया कि शराब की गंध को सूंघकर पहचान कर पाने वाले ऐसे 20 प्रशिक्षित कुत्तों को​ बिहार के चारों पुलिस जोन पटना, मुजफ्फरपुर, दरभंगा और भागलपुर में वितरित किया जाएगा. विनय ने बताया कि अगर यह शुरूआती परियोजना सफल होती है तो तेलंगाना से और भी ऐसे कुत्ते मंगाये जायेंगे.

VIDEO: बिहार में शराबबंदी कानून में संशोधन होगा


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement