NDTV Khabar

नीतीश बीजेपी से मिले हुए हैं, आरएसएस से सेटिंग है : लालू प्रसाद

लालू ने साफ कर दिया कि तेजस्‍वी से कोई इस्‍तीफा नहीं मांगा गया था और न ही नीतीश ने इस पर हमसे कुछ कहा था

3744 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
नीतीश बीजेपी से मिले हुए हैं, आरएसएस से सेटिंग है : लालू प्रसाद

नीतीश कुमार के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफे के बाद लालू ने उन पर तीखे वार किए

खास बातें

  1. लालू को उम्‍मीद गठबंधन नया नेता चुने जिसमें तेजस्‍वी और नीतीश न हों
  2. कहा- जीरो टॉलरेंस की बात करने वाले नीतीश कुमार खुद हत्‍या के आरोपी
  3. लालू ने आरोप लगाया कि नीतीश बीजेपी से मिले हुए हैं
नई दिल्ली: बिहार की राजनीति एक नए मोड़ पर आ गई है. नीतीश कुमार के इस्‍तीफे के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ट्वीट और बीजेपी विधायकों की आपात बैठक एक नए राजनीतिक समीकरण को सामने ला रही है. नीतीश ने जहां स्‍पष्‍ट कर दिया है कि अब गठबंधन चलाना मुश्‍किल हो गया है वहीं लालू प्रसाद यादव अभी भी यह उम्‍मीद जाहिर की है कि गठबंधन कोई नया नेता चुने जिसमें तेजस्‍वी और नीतीश न हो, फिर सरकार बने और चले. हालांकि यह राह भी उतना आसान नहीं है.

इस्तीफा नहीं मांगा था तेजस्वी से
नीतीश कुमार की प्रेस कॉन्फ्रेंस के ठीक बाद लालू प्रसाद भी प्रेस से मुखातिब हुए. लालू ने साफ कर दिया कि तेजस्‍वी से कोई इस्‍तीफा नहीं मांगा गया था और न ही नीतीश ने इस पर हमसे कुछ कहा था. लालू ने कहा कि जो भी मामला है उस पर सफाई संबंधित ऑथरिटी को देंगे न कि किसी जेडीयू प्रवक्‍ता को.

'नीतीश कुमार खुद हत्‍या के आरोपी'
लालू प्रसाद ने अपनी प्रेस कांफ्रेंस में यह भी कहा कि जीरो टॉलरेंस की बात करने वाले नीतीश कुमार खुद हत्‍या के आरोपी है. उन्‍होंने चुनाव आयोग को दिए गए अपने हलफनामे में इसका साफ जिक्र किया है. 31.08.2009 की तारीख में नीतीश कुमार पर हत्‍या का आरोप दर्ज है इस कारण से नीतीश ने इस्‍तीफा दिया है.

जनता ने पांच साल के लिए बीजेपी के खिलाफ जनमत दिया था
लालू ने यह भी आरोप लगाया कि नीतीश बीजेपी से मिले हुए हैं. उन्‍होंने बिहार की जनता को तमाचा मारा है. जनता ने गठबंधन को पांच साल के लिए बीजेपी के खिलाफ जनमत दिया था. लालू ने कहा कि गठबंधन के विधायक मिलकर अपना नया नेता चुनें और सरकार बनाएं. लालू ने कहा कि लेकिन मुझे संदेह है. ये (नीतीश कुमार) बीजेपी से मिले जाएंगे. बिहार की जनता ने पांच साल के लिए चुना है. उसे पूरा कीजिए. कल बैठिए, न तेजस्‍वी रहेगा और न ही आप रहेंगे. मेरी पार्टी बड़ी है. हक मेरा है लेकिन सब लोग बैठिए और नया नेता चुनिए. मैं राज्‍य में राष्‍ट्रपति शासन नहीं चाहता हूं. बिहार की जनता सब देख रही है.

VIDEO: नीतीश पर जमकर बरसे लालू


एक सवाल के जवाब में लालू ने कहा कि यह पुत्र मोह का सवाल नहीं है. यह सिद्धांत का सवाल था. ये लोग लालू से डरते थे और अब इस लड़के से डर गए. आज भी नीतीश ने बात की थी, हमने कहा कि ऐसा मत करो. लेकिन वे बोले कि हमसे अब नहीं होगा.

'भ्रष्‍टाचार से बड़ा अत्‍याचार'
लालू ने पुरानी बात याद दिलाते हुए कहा कि नीतीश कुमार ने कहा था-हम मिट्टी में मिल जाएंगे लेकिन बीजेपी के साथ नहीं जाएंगे. भारत को संघ मुक्‍त बनाएंगे. लालू ने कहा कि भ्रष्‍टाचार से बड़ा अत्‍याचार होता है. देश के एक नागरिक की हत्‍या का आरोप है नीतीश पर. यह सब जानते हुए नीतीश से हाथ मिलाया. वे किस जीरो टॉलरेंस की बात करते हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement