NDTV Khabar

नीतीश कुमार ने माना, शराबबंदी के बावजूद जारी है शराब का कारोबार

नीतीश ने माना कि धंधेबाज को मदद करने वाले लोग सरकारी तंत्र में भी मिलेंगे. लेकिन उनका दावा है कि ऐसे लोगों के बारे में ख़बर मिलते ही धर पकड़ की जा रही है.

520 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
नीतीश कुमार ने माना, शराबबंदी के बावजूद जारी है शराब का कारोबार

बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. मीडिया राज्‍य में हो रहे विकास कार्यक्रमों की कभी सुध नहीं लेता
  2. 'सत्ता से बाहर जाने के बाद लालू को शराबबंदी की विफलता दिख रही है'
  3. लालू यादव की आलोचना का जवाब दे रहे थे नीतीश
पटना: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने माना है कि राज्‍य में शराबबंदी के बावजूद शराब ख़रीद बिक्री में कुछ लोग अभी भी लगे हैं. नीतीश ने कहा, 'हम सब दिन बोलते हैं, कितना भी सुधार का कार्यक्रम कीजिए, कुछ चंद धंधेबाज लोग होंगे ही जो इस तरह की मानसिकता रखते हैं और वही लोग उल्‍टा-पुल्‍टा धंधा करते हैं. नीतीश ने माना कि धंधेबाज को मदद करने वाले लोग सरकारी तंत्र में भी मिलेंगे. लेकिन उनका दावा है कि ऐसे लोगों के बारे में ख़बर मिलते ही धर पकड़ की जा रही है. नीतीश शराबबंदी के मुद्दे पर राजद अध्यक्ष लालू यादव की आलोचना का जवाब दे रहे थे. लालू यादव का आरोप है कि राज्य में शराब की होम डिलिवरी हो रही है. नीतीश ने कहा कि लोग इस बात की ख़बर कर रहे हैं और पकड़ने की भी पूरी कोशिश चल रही है.

हालांकि सोमवार को अपने संवादाता सम्मेलन में मुख्‍यमंत्री ने ये रोना भी रोया कि राज्य में इतना विकास का कार्यक्रम चल रहा है लेकिन मीडिया उसकी कभी सुध नहीं लेता. नीतीश का कहना है कि राज्य में सड़क या सिंचाई के क्षेत्र में इतना काम हो रहा है लेकिन उसकी कोई ख़बर नहीं होती.

यह भी पढ़ें : बिहार में 'डर्टी पिक्चर' के बाद लालू प्रसाद का शौचालय घोटाले पर 'डर्टी सवाल'

नीतीश ने लालू यादव से पूछा, 'क्यों सरकार से बाहर जाने के बाद उन्हें शराबबंदी की विफलता की याद आ रही है. आख़िर शराबबंदी ख़राब थी तब इस साल 21 जनवरी को उनके साथ हाथ में हाथ डाल कर क्यों मानव श्रृंखला में खड़े थे. उस समय बोलते थे बड़ा अच्छा फ़ैसला है. अब बोलते हैं कि शराब की होम डिलिवरी किया जा रहा है.'

नीतीश ने लालू को सलाह देते हुए कहा कि 'आज गांव में जाकर देखिए, सब लोग काम करते हैं और अच्छे से अपना परिवार चला रहे हैं, अपनी गाढ़ी कमाई के पैसे से अपनी जरूरतों का सामान खरीद रहे हैं. लालू यादव को सत्ता से अलग होने पर ये चीजें गलत लग रही हैं.'

VIDEO: शराबबंदी के मुद्दे पर बिहार में 11 हज़ार किमी मानव श्रृंखला


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement