NDTV Khabar

गंगा में जमी गाद को लेकर नीतीश ने केंद्र सरकार को लिया आड़े हाथ

उन्होंने बताया कि जनवरी महीने से एक कार्गो जहाज बक्सर से 500 मीटर पहले फंसा हुआ है और उसे निकालने के लिए जो जहाज भेजा गया, वो 10 किलोमीटर पहले ही फंस गया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
गंगा में जमी गाद को लेकर नीतीश ने केंद्र सरकार को लिया आड़े हाथ

बिहार के सीएम नीतीश कुमार (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. नीतीश ने क्रेंद्र सरकार पर साधा निशाना
  2. नमामि गंगे परियोजना को लेकर साधा निशाना
  3. उन्होंने कहा कि गंगा में जमी गाद की समस्या का हल पहले जरूरी है
पटना: बिहार के सीएम नीतीश कुमार इन दिनों हर मुद्दे पर अपनी बात को बेबाकी से रख रहे हैं. बीते रविवार को हुई नीति आयोग की बैठक में उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी के सामने राज्य की समस्या रखने के बाद उन्होंने केंद्रीय पर्यावरण मंत्री हर्षवर्धन को सलाह दी कि दिल्ली वापस जाकर केंद्रीय भूतल परिवहन मंत्री नितिन गड़करी को बताए कि गंगा में गाद की समस्या का निवारण किए बिना जलमार्ग से कार्गो जहाज नहीं चला सकते. दरअसल, पटना में जलवायु समस्या पर एक कॉन्क्लेव  का आयोजन किया गया था, जहां नीतीश कुमार ने इस बात को दोहराया कि गंगा नदी की अविरलता के बिना निर्मलता की सोचना बेकार है.

यह भी पढ़ें: जेडीयू की दिल्ली में होगी अहम बैठक, आगामी चुनावों को लेकर बनेगी रणनीति

उन्होंने कहा कि जब तक गंगा नदी में जमी गाद की समस्या का हल नहीं ढूंढा जाता, ये दोनों लक्ष्यों को पूरा नहीं किया जा सकता. नीतीश ने अपने भाषण में गाद की समस्या कितनी विकराल रूप लेती जा रही है उसका एक उदाहरण भी दिया. उन्होंने बताया कि जनवरी महीने से एक कार्गो जहाज बक्सर से 500 मीटर पहले फंसा हुआ है और उसे निकालने के लिए जो जहाज भेजा गया, वो 10 किलोमीटर  पहले ही फंस गया. 

यह भी पढ़ें: बिहार में जनता दरबार की संस्कृति फिर शुरू की जाएगी

टिप्पणियां
नीतीश ने केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन से कहा कि नितिन गड़करी को बता दीजियेगा कि कार्गो जहाज का क्या हाल हैं. इस समारोह में नीतीश के भाषण और उसके तरीके से सब लोग भौचक्के थे. लेकिन जानकारों का मानना हैं कि बार-बार गाद की समस्या पर केंद्र का ध्यान दिलाने के बाद उनके ठंडे रूख से नीतीश का धैर्य इस मुद्दे पर जवाब दे रहा है. उन्हें लगता है कि केंद्र बातें बड़ी-बड़ी कर रहा है, लेकिन समस्या के समाधान पर कोई पहल नहीं करता. 

VIDEO: न्यूज टाइम इंडिया : बिहार में शराबबंदी कानून में संशोधन होगा
हालांकि, गंगा नदी में गाद की समस्या कितनी विकराल है इसका जायजा लेने के लिए केंद्रीय पर्यावरण मंत्री हर्षवर्ध को राज्य सरकार द्वारा न्योता दिया गया था. नीतीश ने बार-बार कहा कि उत्तराखंड और उतर प्रदेश में बड़े-बड़े बांध बनाए जाने के कारण गंगा नदी का पानी जितना बिहार में प्रवेश करता हैं, वो कम होता जा रहा है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement