NDTV Khabar

नीतीश कुमार ने एक बार फिर नोटबंदी को सराहा, कहा- काली कमाई करने वालों को इससे चोट पहुंचेगी

नीतीश कुमार का कहना था कि नोटबंदी काली कमाई करने वाले लोगों को आखिरकार हिट करेगा.  

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नीतीश कुमार ने एक बार फिर नोटबंदी को सराहा, कहा- काली कमाई करने वालों को इससे चोट पहुंचेगी

नीतीश कुमार (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. नीतीश पहले दिन से पीएम मोदी का कर रहे समर्थन
  2. नीतीश से पूछा गया, RBI आंकड़े आने के बाद पुनर्विचार करेंगे?
  3. मगर वह बोले, नोटबंदी काली कमाई वालों को हिट करेगी
पटना:

नोटबंदी के आंकड़े भले बीजेपी के लिए भी उत्साहवर्धक ना हो लेकिन इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पहले दिन से समर्थन करने वाले नीतीश कुमार ने फिर इस कदम को सराहा. नीतीश से जब सोमवार को पूछा गया कि क्या  रिज़र्व बैंक के आंकड़े आने के बाद उन्हें अपने कदम पर पुनर्विचार का मन कर रहा है, उस पर नीतीश कुमार का कहना था कि नोटबंदी काली कमाई करने वाले लोगों को आखिरकार 'हिट' करेगा.  

पढ़ें- नीतीश कुमार ने दिया लालू की टिप्पणी पर जवाब, कहा- मैं मर्यादा का उल्लंघन नहीं करूंगा...

हालांकि बीजेपी के समर्थन से सरकार चला रहे नीतीश के विरोधी भी उनसे अब इस मुद्दे से अलग हटने की उम्मीद नहीं करते होंगे लेकिन उनके द्वारा दिए गए तर्क निश्चित रूप से बीजेपी के लोगो के लिए ऊर्जा का काम करेगी. नीतीश ने कहा कि जो भी आंकड़े आये हैं वो सार्वजनिक हैं और मेरी समझ है कि नोटबंदी का असर ठीक है और अगर बैंक में सात प्रतिसात ही पैसा आ गया है तब भी लोगों को बताना होगा कि किसके पास कितना पैसा कहां से आया. नोटबंदी गरीबों को ठीक लगी है. नीतीश ने इस बात से असहमति जताई कि अगर पैसा बैंको में वापस आ गया तो उसका मतलब नोटबंदी विफल होना है.

हालांकि नीतीश शुरू के दिनों में अपने पार्टी  के नेताओं और अधिकारियों को यही सलाह देते थे कि पूरा पैसा सिस्टम में वापस नहीं आएगा और जो पैसा करीब 3 लाख करोड़ के करीब वापस नहीं आने पर उतनी राशि का नया करेंसी की छपाई की जाएगी जिससे विकास के लिए उतना पैसा सरकार के पास होगा.
  
नीतीश ने दावा  किया कि उनकी मांग के अनुसार बेनामी सम्पति के खिलाफ अभियान शुरू किया गया है जिसका असर देखा जा सकता है. उन्होंने लालू यादव का नाम नहीं लिया लेकिन उनका तात्पर्य था कि हाल के दिनों में लालू यादव के खिलाफ बेनामी सम्पति में कैसे उनकी एक के बाद एक सम्पति का खुलासा हुआ और अब उन्हें सीबीआई की भी नोटिस मिली है. लालू यादव की बेटी मीसा भर्ती के नाम से दिल्ली के एक फार्म हाउस को प्रवर्तन निदेसायालय ने जब्त भी किया है.  नीतीश ने कहा कीसी तरह पुरे देश में हमला होगा तो इसका बहुत ज्यादा फायदा दिखाई देगा. नीतीश ने अंत में सलाह भी दी कि नोटबंदी और बेनामी सम्पति के खिलाफ अभियान को कुछ मापदंड पर नहीं जज किया जाना चाहिए. उनके अनुसार कला धन को उजागर करने में सार्थक पहल करनी होगी.


टिप्पणियां

VIDEO: नीतीश की मर्जी  से मुख्यमंत्री नहीं बनेगा तेजस्वी- बोले लालू

नोटबंदी के मुद्दे पर नीतीश के पिछले साल कदम से न केवल राजद बल्कि कांग्रेस भी उनसे नाराज हुई थी, यहां तक कि उनकी पार्टी के नेता जैसे शरद यादव और के सी त्यागी शुरु में काफी असहमत थे लेकिन बाद में उन्होंने पार्टी की बैठक बुलाकर अपने निर्णय पर उन लोगों से मुहर लगवा दी. नीतीश शुरू से ये दवा करते थे कि इस कदम का समाज की निचली और गरीब समुदाय के लोगों का काफी समर्थन है. हालांकि इसके बाद उनका कहना था कि बीजेपी सरकार से पूछा जाना चाहिए कि इस मुहीम का क्या फायदा और क्या नुकसान हुआ.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों (Election News in Hindi), LIVE अपडेट तथा इलेक्शन रिजल्ट (Election Results) के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement