NDTV Khabar

जानें सृजन घोटाले पर किसी भी सवाल का क्यों जवाब नहीं देगी नीतीश सरकार?

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने साफ़ कर दिया है कि अब वे सृजन के मामले में न सवाल सुनेंगे, न जवाब देंगे.

3230 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
जानें सृजन घोटाले पर किसी भी सवाल का क्यों जवाब नहीं देगी नीतीश सरकार?

नीतीश कुमार ने दावा किया कि उनकी सरकार न किसी को फंसती है, न बचाती है...

खास बातें

  1. नीतीश ने कहा पुलिस के बाद अब पूरी जांच सीबीआई कर रही है
  2. सीबीआई को राज्य पुलिस का सहयोग मिल रहा है
  3. जांच के बीच स्टेटस रिपोर्ट नहीं दी जा सकती
पटना: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भले इस बात का दावा करते हो कि पूरी दुनिया को अपने राजपाट में हुए सृजन घोटाले की जानकारी उन्होंने दी. उसके बाद आर्थिक अपराध इकाई की विशेष टीम को विशेष विमान से मामले की जांच करने के लिए भागलपुर तुरंत भेजा लेकिन सोमवार को उन्होंने साफ़ कर दिया कि अब इस मामले में न सवाल सुनेंगे न जवाब देंगे. न और जांच देखेंगे क्योंकि इस मामले की जांच अब सीबीआई कर रही है.  

नीतीश ने सोमवार को ये पूछे जाने पर कि क्या विपक्ष के आरोप पर राज्य सरकार ने सृजन घोटाले की जितनी जांच की है, उसकी स्टेटस रिपोर्ट देगी? उस पर उन्होंने साफ़ कहा कि तकनीकी रूप से राज्य पुलिस अपने जांच के बारे में स्टेटस रिपोर्ट दे सकती है या नहीं, राज्य के पुलिस महानिदेशक बताएंगे. नीतीश ने कहा पुलिस ने शुरू में जांच की और अब पूरी जांच सीबीआई कर रही है. सीबीआई को राज्य पुलिस का सहयोग मिल रहा है. नीतीश ने कहा कि हम लोगों का काम जांच की एजेंसी तय करना था जो परिस्थिति थी, उसका जो व्यापक दायरा था राज्य सरकार ने निर्णय लाया कि सीबीआई करे.   

यह भी पढ़ें: क्या मोदी सरकार बिहार की बड़ी परियोजना से हाथ खींच रही है?

वहीं, राज्य के पुलिस महानिदेशक पीके ठाकुर ने कहा जांच के बीच स्टेटस रिपोर्ट नहीं दी जा सकती क्योंकि हमारी जांच पूरी नहीं थी. अगर हमने अपनी जांच को सार्वजनिक किया तो उससे जांच पर असर पड़ेगा. ठाकुर ने कहा कि जांच की रिपोर्ट को सार्वजनिक करने से अभियुक्तों को पकड़ने में मुश्किल होगी. बिहार पुलिस का मानना है कि हमारी जांच शरुआती दौर में थी. आखिर में ठाकुर ने साफ़ कह दिया जब एक एजेंसी जांच कर रही है, उस बीच में वक्तव्य देना हस्तक्षेप होगा जिसकी फ़िलहाल गुंजाइश नहीं है.  

पढ़ें: जानें नीतीश कुमार क्यों बोले, 2019 के लोकसभा चुनावों के साथ बिहार विधानसभा चुनाव नहीं होंगे

मुख्य विपक्षी पार्टी राजद का कहना है कि जो नीतीश कुमार अपने ऊपर मामूली आरोप पर भी बिंदुवार जवाब या तो राज्य सरकार या अपने प्रवक्ता से दिलवाते हैं, उनका ये रुख साफ़ करता है कि इस जांच में कुछ ऐसे खुलासे हुए हैं जो वो फ़िलहाल नहीं चाहते कि सार्वजनिक हो. राजद के नेताओं का कहना है कि नीतीश अपनी पुलिस खासकर आर्थिक अपराध इकाई के लोगों को बचा रहे हैं क्योंकि आर्थिक अपराध इकाई  जयश्री ठाकुर के मामले की जांच चार वर्षों से कर रही है लेकिन वो इस घोटाले के बारे में कुछ पता नहीं कर पाई. इससे भी ज्यादा इसी जयश्री ठाकुर से जुड़े मामले में संजीत कुमार के लिखे पत्र के आधार पर क्या जांच हुई? उसे बताने में आखिर राज्य सरकार क्यों भाग रही हैं ये सबके समझ से परे है?    

VIDEO : कैबिनेट विस्तार पर नीतीश कुमार की सफाई


इस मुद्दे पर जहां राजद ने भागलपुर में एक आयोजित की. वही पार्टी के सभी शीर्ष नेताओं ने कई संवादाता सम्मलेन में नीतीश कुमार से कई सवाल किए लेकिन हर बार नीतीश कुमार यह कहकर सवालों का जवाब देने से टाल गए कि फ़िलहाल इस मामले की जांच सीबीआई कर रही हैं. हालांकि, नीतीश कुमार ने दावा किया कि उनकी सरकार न किसी को फंसती है, न बचाती  है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement