NDTV Khabar

नीतीश कुमार ने खोला राज, क्यों गए थे पी चिदंबरम को सदाकत आश्रम छोड़ने

पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री पी चिदंबरम को राजगीर से पटना के सदाकत आश्रम छोड़ने इस उम्मीद से गए थे कि बिहार को विशेष राज्य का दर्जा मिल जाएगा

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नीतीश कुमार ने खोला राज, क्यों गए थे पी चिदंबरम को सदाकत आश्रम छोड़ने

नीतीश कुमार ने बताया कि वे 2013 में पी चिदंबरम को इस आशा के साथ सदाकत आश्रम तक साथ लेकर गए थे कि बिहार को विशेष राज्य का दर्जा मिल जाएगा.

खास बातें

  1. सन 2013 में केंद्रीय वित्त मंत्री पी चिदंबरम राजगीर आए थे
  2. हेलिकॉप्टर ख़राब होने पर चिदंबरम को कार में ले गए थे नीतीश
  3. कहा- अगर यूपीए सरकार चाहती तो विशेष राज्य का दर्जा दे सकती थी
पटना:

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार कुछ करते हैं तो उसके पीछे ज़रूर कोई उद्देश्य होता हैं. यह बात खुद उन्होंने सोमवार को मानी. उन्होंने कहा कि जब वे पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री पी चिदंबरम को राजगीर से पटना के सदाकत आश्रम छोड़ने गए थे तो उन्हें उम्मीद थी कि बिहार को विशेष राज्य का दर्जा मिल जाएगा.

नीतीश कुमार से सोमवार को जब यह पूछा गया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने का वादा किया था और नीतीश भी इस मुद्दे पर सबसे मुखर रहे हैं, तो उनका कहना था कि सबसे पहले ये सर्वदलीय मांग है. इस सम्बंध में विधानसभा से प्रस्ताव भी पारित हो चुका है.

यह भी पढ़ें : ओबीसी का कोटा बढ़ाने की मांग पर नीतीश कुमार ने आरजेडी की मांग का किया समर्थन


हालांकि नीतीश ने साथ-साथ यह भी कह डाला कि 2013 में जब उस समय के केंद्रीय वित्त मंत्री पी चिदंबरम राजगीर आए थे तब उनका हेलिकॉप्टर ख़राब होने पर उन्हें वे अपनी गाड़ी में बिठाकर लाए थे. उन्हें उम्मीद थी कि विशेष राज्य का दर्जा मिल जाएगा. लेकिन उस समय जो इस मुद्दे पर समिति बनी थी उसने इसे लटका दिया. नीतीश का कहना था कि अगर यूपीए सरकार चाहती तो बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दे सकती थी.

VIDEO : नीतीश कुमार पीएम मोदी के साथ मंच साझा करेंगे

टिप्पणियां

नीतीश के जवाब से साफ है कि वे फिलहाल इस मुद्दे को ज्यादा तूल नहीं देना चाहते. हालांकि बिहार विधानसभा चुनाव के पूर्व वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमेशा व्यंग्य करते थे कि अपने वादे को पूरा करो.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement