NDTV Khabar

भ्रष्टाचार और समाज को बांटने वाली नीति से समझौता नहीं कर सकता : नीतीश

नीतीश कुमार ने अपने पार्टी दफ्तर में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में बोलते हुए कहा कि वो सामाजिक और साम्प्रदायिक सद्भावना के पक्षधर हैं. 

1.4K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
भ्रष्टाचार और समाज को बांटने वाली नीति से समझौता नहीं कर सकता : नीतीश

बिहार के सीएम नीतीश कुमार (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. 'भ्रष्टाचार और समाज को बांटने वाली नीति से समझौता नहीं कर सकता'
  2. संवाददाता सम्मेलन में नीतीश ने बोली यह बात
  3. उन्होंने कहा कि वो सामाजिक और साम्प्रदायिक सद्भावना के पक्षधर हैं
पटना:

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को हर मसले पर अपना मौन धारण करने की नीति को खत्म करते हुए दो टूक शब्दों में कहा कि ना हम लोग भ्रष्टाचार से और ना ही समाज को बांटने और विभाजित करने वाली नीति के साथ समझौता कर सकते हैं. नीतीश कुमार ने अपने पार्टी दफ्तर में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में बोलते हुए कहा कि वो सामाजिक और साम्प्रदायिक सद्भावना के पक्षधर हैं. 

यह भी पढ़ें: नीतीश कुमार बोले, 10 साल से बिहार के लिए विशेष राज्‍य के दर्जे की मांग कर रहे हैं

टिप्पणियां

इस मौके पर नीतीश ने कहा कि उन्हें वोट की चिंता नहीं है, लेकिन वो वोट देने वालों की चिंता करते हैं. नीतीश का ये जवाब माना जा रहा है कि अपने सहयोगी भाजपा के उन दो केंद्रीय मंत्रियों गिरिराज सिंह और अश्विनी चौबे को निशाना पर रखकर दिया गया है, जहां गिरिराज ने दरभंगा में एक पुलिस अधिकारी के खिलाफ नारा लगाने के लिए लोगों को उकसाया और वीडियो वायरल होने के बाद ट्वीट भी किया. 


VIDEO: बिहार में साल 2020 में ही होंगे चुनाव: सीएम नीतीश
वहीं, शनिवार को केंद्रीय मंत्री चौबे के बेटे अभिजीत सास्वत ने एक जुलूस निकाला, जिससे भागलपुर सागर में साम्प्रदायिक तनाव फैला. सोमवार को इन दोनों मंत्रियों के इस्तीफे की मांग को लेकर बिहार विधानसभा की कार्रवाई कई बार स्थगित करनी पड़ी.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement