NDTV Khabar

नीतीश कुमार ने कहा- बिहार में एनडीए एकजुट, 'छपास प्रेमी बयानवीरों' के चक्कर में न पड़ें

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बिहार की पांच विधानसभा सीटों और एक लोकसभा सीट के लिए चुनाव प्रचार शुरू किया

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नीतीश कुमार ने कहा- बिहार में एनडीए एकजुट, 'छपास प्रेमी बयानवीरों' के चक्कर में न पड़ें

चुनावी सभा में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, रामविलास पासवान और सुशील मोदी सहित एनडीए के अन्य नेता.

खास बातें

  1. नीतीश ने सुशील मोदी और रामविलास पासवान के साथ कीं चुनावी सभाएं
  2. सिवान जिले के दरौंदा में जेडीयू प्रत्याशी अजय सिंह के लिए किया प्रचार
  3. नीतीश ने इशारों-इशारों में केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह को बनाया निशाना
पटना:

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार निश्चित रूप से भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के उस बयान के बाद कि अगला विधानसभा चुनाव नीतीश कुमार के नेतृत्व में ही लड़ेंगे, काफी खुश हैं. बहुत दिनों के बाद नीतीश कुमार जनसभा में खुश और उत्साह में दिखे. उन्होंने अपने ऊपर बयान देने वालों का नाम लिए बिना कहा कि अखबार में छपने के चक्कर में कुछ लोग बयान देते हैं लेकिन उनके चक्कर में मत पड़िए.

नीतीश ने गुरुवार से बिहार की पांच विधानसभा और एक लोकसभा सीट के लिए प्रचार शुरू किया. इसमें उनके साथ उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी और लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान भी थे. उपचुनाव के लिए उन्होंने बृहस्पतिवार को तीन जगह जनसभा की और हर जनसभा में उनके भाषण का मुख्य बिन्दु यही था कि बिहार में NDA एकजुट है. और जो कुछ लोग इधर उधर बोलते रहते हैं उनकी बातों में उनकी बातों पर ध्यान देने की ज़रूरत नहीं है. नीतीश कुमार ने सिवान जिले के दरौंदा में अपनी पार्टी के प्रत्याशी अजय सिंह के लिए प्रचार करते हुए कहा कि वह भारतीय जनता पार्टी हो या जनता दल यूनाइटेड या लोक जनशक्ति पार्टी, सब में एकजुटता है और जो कुछ लोग इधर से उधर बोलते रहता हैं उसके चक्कर में मत पड़िएगा. नीतीश के अनुसार कुछ लोग हैं जो ऐसी बात करते रहते हैं क्योंकि ऐसे लोगों को प्रेम होता है कि अखबार में छपे तो कुछ-कुछ बोलते रहते हैं. इसके बाद नीतीश ने फिर दुहराया कि उसके चक्कर में मत पड़िए, यहां पर हम लोगों की एकजुटता है.

नीतीश कुमार का संदेशा आया था उनकी तथाकथित सेकुलर आत्मा उनको वहां धिक्कार रही है : शिवानंद तिवारी


नीतीश के भाषण से साफ़ है कि उन्होंने अपने आलोचकों को छपास रोग का मरीज बताया है और कार्यकर्ताओं को साफ कर दिया है कि ऐसे लोगों को तरजीह देने की कोई ज़रूरत नहीं है. निश्चित रूप से उनका इशारा केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह की तरफ़ था, जिन्हें उपचुनाव में कहीं भी प्रचार के लिए न तो नीतीश कुमार ने, न ही उनकी पार्टी भाजपा ने कहा है.

Amit Shah के बयान से गिरिराज सिंह को बड़ा झटका, नीतीश कुमार के लिए अच्छी खबर

जल जमाव के कारण आम जनता और कोर्ट की आलोचना झेल रहे नीतीश कुमार ने हालांकि अपने भाषण में कहा कि हम लोग बिहार को आगे बढ़ा रहे हैं. हम लोगों का संकल्प है कि बिहार पिछड़ा राज्य नहीं रहने देंगे, विकसित राज्य में परिणीत करेंगे.

VIDEO : रावण दहन कार्यक्रम में नदारद रहे बीजेपी नेता

टिप्पणियां



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement