Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

पवन वर्मा के खत पर बिहार के CM नीतीश कुमार ने कहा- कोई आदमी पार्टी का रहता है, और पत्र...

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) और JDU के वरिष्ठ नेता पवन कुमार वर्मा (Pawan Kumar Verma) के बीच दिल्ली विधानसभा चुनाव (Delhi Assembly Elections 2020) में जनता दल यूनाइटेड (JDU) और भारतीय जनता पार्टी (BJP) के गठबंधन को लेकर अभी भी सवाल-जवाब का दौर जारी है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पवन वर्मा के खत पर बिहार के CM नीतीश कुमार ने कहा- कोई आदमी पार्टी का रहता है, और पत्र...

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar)- फाइल फोटो

खास बातें

  1. पवन वर्मा के खत पर बिहार के CM नीतीश कुमार का बयान
  2. कहा- कोई आदमी पार्टी का रहता है, और पत्र...
  3. JDU-BJP के गठबंधन को लेकर अभी भी सवाल-जवाब का दौर जारी
पटना:

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने शुक्रवार को भी पूर्व राज्यसभा सांसद और पार्टी के वरिष्ठ नेता पवन वर्मा पर अपनी नाराज़गी जतायी. उन्होंने साफ कहा कि उनके पत्र का कोई वैल्यू नहीं है. कर्पूरी ठाकुर जयंती के उपलक्ष्य में उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण करने के बाद नीतीश कुमार से ये पूछे जाने पर कि क्या वो उनके खिलाफ कार्रवाई करेंगे तो पहले तो उस पर जवाब नहीं दिया, लेकिन जब उनसे पूछा गया कि क्या वो उनके पत्र का जवाब देंगे तो उनका कहना था ''इसको कहते हैं पत्र? बताइए तो अगर कोई आदमी पार्टी का होता है पत्र लिखता है पत्र मिलता है तब ना उसका जवाब देता है, पार्टी का काम किया ईमेल पर भेज दीजिए और प्रेस में जारी कर दीजिए. उस पत्र का कोई वैल्यू नहीं है.''

Citizenship Amendment Act: क्या है नागरिकता संशोधन कानून? जानिए इसके बारे में सब कुछ


नीतीश कुमार के प्रतिक्रिया से साफ़ हैं कि वो मीडिया में इस पत्र को जारी करने से नाराज़ ही नहीं बल्कि उसका नोटिस भी नहीं लेना चाहते. साथ ही जो पवन वर्मा इस मुद्दे पर चर्चा के लिए इंतज़ार कर रहे थे, उसमें भी उन्हें निराशा हाथ लगेगी. हालांकि कारवाई करने के मुद्दे पर नीतीश भले कुछ नहीं बोले लेकिन यह साफ हैं कि पार्टी में उनका स्थान नीतीश कुमार के लिए ख़त्म हो गया.

इस बीच नीतीश कुमार के प्रतिक्रिया के बाद पार्टी के अन्य नेता भी पवन वर्मा और प्रशांत किशोर के खिलाफ खुल्लर बयानबाज़ी शुरू कर दिया हैं. बृहस्पतिवार को नीतीश के क़रीबी आरसीपी सिंह और सूचना मंत्री नीरज कुमार दोनों ने इन नेताओं के खिलाफ कहा कि अब पार्टी को ऐसे नेताओं की ज़रूरत नहीं रही.

'द इकोनॉमिस्ट' ने भारत को बताया 'असहिष्णु', CAA-NRC को लेकर साधा मोदी सरकार पर निशाना, लिखा- डरे हुए हैं 20 करोड़ मुसलमान

टिप्पणियां

गौरतलब है कि गुरुवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पवन वर्मा से जुड़े मीडिया के सवाल पर कहा था कि कुछ लोगों के बयान से जनता दल यूनाइटेड को मत देखिए. JDU जनता के साथ अपना काम करती है. कुछ चीजों पर हमारा स्टैंड साफ होता है. एक भी चीज के बारे में हम कंफ्यूजन में नहीं रहते हैं. किसी के मन में अगर कोई बात है तो विमर्श करना चाहिए, बातचीत करनी चाहिए. जरूरी समझें तो पार्टी की बैठक में चर्चा करनी चाहिए. इस तरह का बयान, ये आश्चर्य की बात है. फिर भी सम्मान है, इज्जत है लेकिन जहां उनको अच्छा लगे वहां जाएं, मेरी उनको शुभकामनाएं हैं.'

VIDEO: पवन वर्मा के सवाल पर नीतीश कुमार ने कहा: जिसको जहां अच्छा लगे जाए



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... नीना गुप्ता ने ट्रांसपेरेंट ब्लैक साड़ी में पुरानी तस्वीर की शेयर, लिखा- ''25 साल पहले भी...''

Advertisement