NDTV Khabar
होम | बिहार

बिहार

  • पटना में जलजमाव को लेकर बोले केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह- जो बाढ़ आया उसके लिए जनता नहीं हम जिम्मेदार
    बेगूसराय में बुधवार को पत्रकारों से बात करते हुए गिरिराज ने कहा ''मैं बेगूसराय से जनप्रतिनिध हूं अगर यहां कुछ नहीं होता है तो कमियों को हम स्वीकारेंगे और जनता से क्षमा याचना करेंगे. राजग का हिस्सा होने के साथ पटना में भी भाजपा के कई सांसद हैं और वहां की जनता ने हमपर भरोसा किया. जो बाढ़ आया उसके लिए जनता नहीं हम जिम्मेदार हैं.
  • नीतीश ने माना कि पंपिंग हाउसों के काम न करने से जल जमाव था, कहा- अब पटना को सुधार देंगे
    मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार को माना कि पटना के पंपिंग हाउस काम नहीं कर रहे थे, लेकिन साथ ही उन्होंने वादा किया कि अब पटना को सुधार देंगे. बिहार की राजधानी पटना पिछले पांच दिनों से रिकॉर्ड बरसात के कारण जल जमाव की समस्या झेल रही है. इसके कारण पटना साहिब में रहने वाले लाखों लोगों का जीवन अस्त व्यस्त हो गया है. जल जमाव का एक बड़ा कारण शहर में जल निकासी के पंपिंग स्टेशन का काम नहीं करना बताया जा रहा है. ख़ुद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार को स्वीकार किया कि सभी पंपिंग हाउस काम नहीं कर रहे थे. मंगलवार देर शाम से ही अधिकांश ने काम करना शुरू किया जिससे कि जल निकासी का काम भी आखिरकार प्रारंभ हो पाया.
  • बीजेपी के सांसद पटना में बाढ़ पीड़ितों से मिलने पहुंचे, खुद डूबते-डूबते बचे; देखें VIDEO
    बिहार में पटना धनरुआ के रमनीविगहा में पूर्व केंद्रीय राज्यमंत्री और बीजेपी के सांसद रामकृपाल यादव बुधवार को डूबते-डूबते बचे. इस इलाके में दरधा नदी के कारण बाढ़ आई हुई है. पाटलिपुत्र के सांसद रामकृपाल यादव बाढ़ पीड़ितों से मिलने गए थे. वे बाढ़ के हालात का जायजा लेने के निकले. वे वहां वाहनों के ट्यूब और लकड़ी के पटियों से बनाई गई एक नाव में सवार होकर जा रहे थे. उनके साथ कुछ स्थानीय लोग भी नाव पर सवार थे. नाव पर लोगों के समूह के साथ खड़े रामकृपाल यादव का अचानक संतुलन बिगड़ा जिससे नाव डगमगाने लगी. नाव पर उनके साथ खड़े छह-सात लोग भी नाव के हिचकोले लेने से लड़खड़ाने लगे और एक दूसरे का सहारा लेने की कोशिश करने लगे. इस कोशिश में नाव का संतुलन पूरी तरह बिगड़ गया और सांसद रामकृपाल यादव अपने साथ खड़े अन्य लोगों के साथ पानी में गिर गए.
  • नीतीश कुमार को कहना पड़ा, मीडिया वालों को हम प्रणाम करते हैं, क्या लैंग्वेज है भाई!
    बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गांधी जयंती पर कहा कि हम अपना प्रचार नहीं करते. जो काम नहीं करता वह केवल प्रचार करता है, लेकिन जितनी मेरी आलोचना है, कीजिए. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार मीडिया की भूमिका से आहत हैं. नीतीश कुमार का बुधवार को गांधी जयंती के उपलक्ष्य में आयोजित एक कार्यक्रम में गुस्सा झलका.उन्होंने मंगलवार की शाम को कुछ मीडिया चैनलों द्वारा उनके खिलाफ अभद्र भाषा के प्रयोग पर कहा कि उन्हें प्रचार पर भरोसा नहीं, बल्कि काम करते हैं. लेकिन जो लोग काम नहीं करते वे अपना प्रचार ख़ूब करते हैं.
  • बाढ़ को लेकर बिहार BJP अध्यक्ष ने सीएम नीतीश कुमार पर साधा निशाना, कहा- यह आपकी नाकामी है कि...
    उन्होंने कहा कि मैं पटना में बने हालात को लेकर तीन दिन से परेशान हूं. हालांकि, बीते 24 घंटे से शहर में बारिश नहीं हो रही है. जायसवाल ने कहा कि बिहार सरकार को चाहिए कि वह अगले दस दिनों में हालात का जायजा लें और जिम्मेदार अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करें. 
  • पटना बाढ़: रेस्क्यू के बाद महिला का छलका दर्द, कहा- कभी सोचा तक नहीं था कि..., देखें VIDEO
    सीएम नीतीश कुमार ने बाढ़ के बाद बने हालात का मंगलवार रात को निरीक्षण किया. बता दें कि भारी बारिश से मरने वाले 42 लोगों में भागलपुर में दस, गया में छह, पटना एवं कैमूर में चार-चार, खगड़िया एवं भोजपुर में तीन-तीन, बेगूसराय, नालंदा एवं नवादा में दो-दो, पूर्णिया, जमुई, अरवल, बांका, सीतामढी और कटिहार में एक-एक व्यक्ति शामिल हैं.
  • बाढ़ प्रभावित इलाके में निरीक्षण के दौरान पूछे गए सवाल पर भड़के सीएम नीतीश कुमार , कहा - बताइये! अमेरिका में क्या हुआ? 
    राज्य के अलग-अलग जिलों में हुई बीते कुछ दिनों में हुई मुसलाधार बारिश की वजह से मौत का आंकड़ा 42 हो गया है, जबकि नौ लोग गंभीर रूप से घायल हो गए. सीएम नीतीश कुमार ने बाढ़ के बाद बने हालात का मंगलवार रात को निरीक्षण किया. बता दें कि भारी बारिश से मरने वाले 42 लोगों में भागलपुर में दस, गया में छह, पटना एवं कैमूर में चार-चार, खगड़िया एवं भोजपुर में तीन-तीन, बेगूसराय, नालंदा एवं नवादा में दो-दो, पूर्णिया, जमुई, अरवल, बांका, सीतामढी और कटिहार में एक-एक व्यक्ति शामिल हैं.
  • बिहार में बारिश रुकने के बाद जलजमाव बनी आफत, सीएम नीतीश कुमार ने किया प्रभावित इलाकों में निरीक्षण 
    मुख्यमंत्री ने श्रीकृष्ण मेमोरियल हॉल में चलाये जा रहे आपदा राहत बचाव कार्य के लिये राहत सामग्री आपूर्ति, भंडारण, पैकेटिंग एवं निर्गत केन्द्र का भी जायजा लिया. उन्होंने इसके पश्चात सैदपुर के जलजमाव वाले क्षेत्रों का जायजा लिया और अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये.
  • पटना में आई बाढ़ तो गिरिराज सिंह ने एक बार फिर सहयोगी नीतीश कुमार पर बोला हमला, दिया यह बयान
    भारतीय जनता पार्टी (BJP) के वरिष्ठ नेता गिरिराज सिंह (Giriraj Singh) ने बाढ़ और पटना में जलजमाव (Patna Flood) को लेकर बिहार की नीतीश सरकार को घेरा है.
  • आखिर नीतीश कुमार और सुशील मोदी चोरी-चोरी चुपके-चुपके पटना में क्यों घूम रहे?
    बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आखिरकार मंगलवार की शाम को पटना शहर में भरे पानी की निकासी का खुद जाकर निरीक्षण किया. इससे पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने दिन में कई जगहों पर जल जमाव का जायजा लिया और शाम को नगर विकास विभाग के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की. बैठक के बाद निष्कर्ष यही निकला कि अतिरिक्त पंपों की सहायता से दो दिन में दो फीट पानी की निकासी होगी. नीतीश कुमार ने इससे पूर्व रविवार को अलग-अलग जगहों पर पानी का जायजा लिया और सोमवार को हेलिकॉप्टर से सर्वे किया. इससे पूर्व राहत सामग्री जो पटना के श्री कृष्णा मेमोरियल हाल में बन रही थी, उसका भी निरीक्षण किया.
  • पटना में जल जमाव से चार-पांच दिन नहीं मिलेगी निजात, डिप्टी सीएम मोदी ने ली बैठक
    पटना शहर को फिलहाल जल जमाव से पूरी तरह से निजात पाने में चार से पांच दिन लग जाएंगे. यह मानना है खुद बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी का. उन्होंने मंगलवार को जल जमाव वाले इलाकों का दौरा करने के बाद अपने दफ्तर में नगर विकास विभाग के अधिकारियों के साथ समीक्षा की, जिसमें भाजपा के अधिकांश मंत्री भी मौजूद थे. इस बैठक के बाद उनके दफ्तर द्वारा जारी विज्ञप्ति के अनुसार सुशील मोदी ने कहा कि अगले एक दो दिन में कम से कम दो फीट पानी निकालने की व्यवस्था की जाए.
  • गृह राज्य मंत्री किशन रेड्डी ने बिहार की बाढ़ पर जताई चिंता, कहा- जरूरत पर रवानगी के लिए तैयार हैं अर्द्धसैनिक बल
    केंद्रीय गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी ने बिहार में बाढ़ की स्थिति को गंभीर बताते हुए राज्य को हर संभव मदद का आश्वासन दिया.
  • बिहार बाढ़: बचाव और राहत कार्यों के लिए NDRF की टीम, वायु सेना के हेलीकॉप्टर तैनात
    बिहार सरकार ने NCMC को सूचित किया कि नदियों के उफान पर होने के साथ अत्यधिक बारिश के कारण 16 जिलों में बाढ़ आ गई है. अधिकारियों ने बताया कि राज्य सरकार ने बड़ी संख्या में लोगों से स्थान खाली कराए और बचाव तथा राहत प्रयास भी चल रहे हैं.
  • सीएम नीतीश कुमार के बाद अब केंद्रीय मंत्री ने भी बिहार में बाढ़ के लिए 'हथिया नक्षत्र' को बताया जिम्मेदार 
    अश्विनी चौबे ने कहा कि बिहार की भाजपा-जद (यू) गठबंधन सरकार, जिला प्रशासन एवं आपदा प्रबंधन विभाग 24 घंटे राहत एवं बचाव अभियान चला रहे हैं और स्थिति से निपटने के लिए काम कर रहे हैं . केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री समेत पूरी राज्य सरकार स्थिति की नजदीक से निगरानी कर रही है.
  • बिहार में आफत की बारिश: अब तक 41 की मौत, 16 लाख से ज्यादा प्रभावित, 11 हजार को सुरक्षित जगह पहुंचाया गया
    पिछले कई दिन से हो रही बारिश के कारण बिहार और उत्तर प्रदेश के अनेक हिस्से सोमवार को बाढ़ की चपेट में रहे वहीं देश भर में वर्षा जनित हादसों में मरने वाले लोगों की संख्या 148 पर पहुंच गई हैं. भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) ने कहा कि देश में 1994 के बाद इस मानसून में सबसे अधिक वर्षा दर्ज की गई. 
  • बिहार में बाढ़, फिर कहां गायब हो गए विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव?
    बिहार में जब भी कोई त्रासदी होती है तो मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सरकार की खिंचाई करने के साथ-साथ एक सवाल पूछा जाता है, कहां हैं विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव? लोकसभा चुनाव के बाद यह सिलसिला, चमकी बुखार, विधानसभा सत्र और जुलाई महीने में बाढ़ के समय से जो शुरू हुआ तो खत्म होने का नाम नहीं ले रहा. जब राजधानी पटना शहर पानी में डूबा हुआ है, एक बार फिर तेजस्वी यादव नदारद हैं. तेजस्वी हालांकि एक के बाद एक ट्वीट कर सरकार पर हमला कर रहे हैं, लेकिन उनकी पार्टी के नेता भी इस सवाल का जवाब देने में अब हाथ खड़े कर देते हैं कि आखिर तेजस्वी कहां हैं, और पटना कब आएंगे?
  • केंद्रीय मंत्री रविशंकर के बयान पर आरजेडी नेता शिवानंद तिवारी ने चुटकी ली
    केंद्रीय विधि मंत्री और पटना साहिब से सांसद रविशंकर प्रसाद ने रविवार की शाम को एक बयान दिया. यह बयान पटना में जलजमाव के संदर्भ में था. उनका दावा था कि उन्होंने केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह चौहान से बात की जिसके बाद फरक्का बराज के 119 गेट खोले गए. लेकिन यह बयान देकर रविशंकर ने विपक्ष को अपनी आलोचना का एक मुद्दा बैठे बिठाए दे दिया. राष्ट्रीय जनता दल के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने कहा कि कौन सही है! मुख्यमंत्री नीतीश कुमार या भारत सरकार के मंत्री रविशंकर प्रसाद.
  • यूपी-बिहार में नहीं थम रहा बारिश का कहर: सौ से ज्यादा की मौत, जेल और अस्पताल में भी भरा पानी, स्कूल और कॉलेज बंद
    प्रभावित इलाकों में लोगों को बचाने के लिए नावों को तैनात किया. बिहार के आपदा राहत विभाग में अतिरिक्त सचिव अमोद कुमार शरण ने कहा, 'बारिश बंद हो गई है, लेकिन कई इलाकों में जलभराव है.' सोमवार को अपने बुलेटिन में, भारत के मौसम विभाग ने कहा कि बिहार में बारिश की तीव्रता कम होने की काफी संभावना है.
  • पटना में बाढ़ का पानी उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी के घर में घुसा, NDRF की टीम ने निकाला
    बिहार की राजधानी पटना में हुई भयंकर बारिश के बाद बाढ़ का पानी नेताओं और अधिकारियों के घरों तक पहुंच गया.सरकार में नंबर-2 और बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी भी इससे बाढ़ से बच नहीं पाए. बीते तीन-चार दिनों से हो रही भयंकर बारिश की वजह से पूरा पटना डूब गया है. उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी और दो पूर्व मुख्यमंत्रियों सतेंद्र नारायण सिंह एवं जीतन राम मांझी के घरों में भी पानी घुस गया.
  • बिहार में बाढ़ से बिगड़े हालात: राहुल गांधी ने कार्यकर्ताओं को दिया निर्देश, कहा-बगैर देरी किए करें  मदद
    उत्तर प्रदेश और बिहार में बीते कुछ दिनों से हो रही मुसलाधार बारिश ने कहर बरपाया हुआ है. दोनों राज्यों के कई जिलों में आम जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है. मौसम विभाग के अनुसार इन दोनों ही राज्यों के अलगे 48 घंटे बेहद अहम होने वाले हैं. विभाग ने रविवार को कहा था कि दोनों ही राज्यों के अगले दो से तीन दिन बेहद अहम होने वाले हैं. इस दौरान दोनों ही राज्यों में भारी से भारी बारिश  का अनुमान जताया गया है. विभाग के इस अलर्ट ने राज्य सरकारों की मुश्किलें और बढ़ा दी है.
«12345678»

Advertisement