पटना में आई बाढ़ तो गिरिराज सिंह ने एक बार फिर सहयोगी नीतीश कुमार पर बोला हमला, दिया यह बयान

भारतीय जनता पार्टी (BJP) के वरिष्ठ नेता गिरिराज सिंह (Giriraj Singh) ने बाढ़ और पटना में जलजमाव (Patna Flood) को लेकर बिहार की नीतीश सरकार को घेरा है.

पटना में आई बाढ़ तो गिरिराज सिंह ने एक बार फिर सहयोगी नीतीश कुमार पर बोला हमला, दिया यह बयान

BJP सांसद गिरिराज सिंह ने नीतीश कुमार पर बोला हमला. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • गिरिराज सिंह का नीतीश कुमार पर फिर बोला हमला
  • पटना में बाढ़ के बहाने गिरिराज ने नीतीश को घेरा
  • 'व्यवस्था की कुव्यस्था का परिणाम है पटना की स्थिति'
बेगूसराय:

भारतीय जनता पार्टी (BJP) के वरिष्ठ नेता गिरिराज सिंह (Giriraj Singh) ने बाढ़ और पटना में जलजमाव (Patna Flood) को लेकर बिहार की नीतीश सरकार को घेरा है. उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) द्वारा इसे प्राकृतिक आपदा बताए जाने पर कटाक्ष करते हुए कहा कि पटना का जलप्रलय प्राकृतिक आपदा नहीं, व्यवस्था की अव्यवस्था है, सरकार की चूक है. गिरिराज सिंह ने कहा कि 'राहत व्यवस्था कागजों में सिमटी हुई है. प्रशासन के लिए बाढ़ उत्सव के समान है. विभागीय प्रावधान की आड़ में मानवीय संवेदना के साथ मजाक किया जा रहा है.'

क्या राजनीति से संन्यास लेंगे केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह? दिए यह संकेत

भाजपा के फायरब्रांड नेता माने जाने वाले गिरिराज सिंह ने कहा, 'पटना में जलप्रलय प्राकृतिक आपदा नहीं सरकार की चूक है. व्यवस्था की अव्यवस्था है.' मंत्री ने कहा कि 'तीन अगस्त को बाढ़ पूर्व तैयारी को लेकर जिला प्रशासन ने पुख्ता व्यवस्था का दावा किया था. लेकिन, बाढ़ आने पर सारी तैयारियों की पोल खुल गई.'

NRC के बहाने गिरिराज सिंह ने नीतीश पर 'साधा निशाना', कहा- आर्टिकल 370 और तीन तलाक पर...

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

बेगूसराय के सांसद ने सरकार द्वारा चलाई जा रही सामुदायिक रसोई पर सवाल खड़ा करते हुए कहा कि बाढ़पीड़ितों के भोजन के लिए सामुदायिक रसोई संचालन की बात कही जा रही है, लेकिन, सवाल उठता है कि पानी से घिरा परिवार उस सामुदायिक रसोई तक कैसे पहुंच सकता है. बता दें कि बिहार में भाजपा और जेडीयू (JDU) की सरकार चल रही है. मुख्यमंत्री ने दो दिन पहले पटना में लगातार हो रही बारिश के बाद जलजमाव को प्राकृतिक आपदा बताया था.

VIDEO: रवीश कुमार का प्राइम टाइम : पटना के पानी-पानी होने की कहानी