NDTV Khabar

मानव श्रृंखला पर शुक्रवार को फैसला सुनाएगा पटना उच्‍च न्‍यायालय

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मानव श्रृंखला पर शुक्रवार को फैसला सुनाएगा पटना उच्‍च न्‍यायालय

पटना हाईकोर्ट (फाइल फोटो)

पटना:

पटना उच्च न्यायलय शुक्रवार को फैसला सुनाएगा कि शराबमुक्त बिहार पर अब तक की सबसे बड़ी मानव श्रृंखला शनिवार को होगी या नहीं. इस मामले की सुनवाई गुरुवार को हुई और राज्य सरकार के शपथ पत्र से असंतुष्‍ट उच्च न्यायलय ने अब राज्य के मुख्य सचिव और पुलिस निदेशक को कोर्ट में तलब कर कई विंदुओं पर सफाई देने के लिए कहा है.

कोर्ट में एक जनहित याचिका दायर कर इस बात पर आपत्ति जाहिर की गई कि पूरे राज्य में स्कूल के बच्‍चों पर इस मानव श्रृंखला में शामिल होने का दबाव प्रशासन द्वारा दिया जा है और साथ ही पूरे राज्य में पांच घंटे आम लोगों की गाड़ी बंद रखने  का आदेश दिया गया है. कोर्ट ने राज्य सरकार से इस संबंध में जवाब मांगा. इस जवाबी शपथ पत्र में कहा गया कि पांच साल के ऊपर के बच्‍चों को मानव श्रृंखला में शामिल होने का आदेश दिया गया है. लेकिन कोर्ट ने इस बात पर आपत्ति जाहिर की कि आखिर विभिन्‍न जिला प्रशासन द्वारा मानव श्रृंखला में भाग नहीं लेने पर उनका नामांकन रद्द या अवैध ठहराने के आदेश कैसे पारित किये गए.

गुरुवार को सुनवाई के दौरान मानव श्रृंखला के समय मीडिया के वाहन को एम्बुलेंस के साथ प्रतिबन्ध से मुक्‍त रखने पर भी सवाल खड़े किए गए. कोर्ट ने पूछा, 'इससे लगता है राज्य सरकार प्रचार पाने के लिए मीडिया पर मेहरबान है. मानव श्रृंखला के समय आम वाहन के लिए सड़कें पांच घंटे बंद रहेंगी लेकिन एम्बुलेंस, अग्निशामक वाहन, शव वाहन, पानी के टैंकर और मीडिया के वाहनों पर कोई रोक टोक नहीं होगी.


टिप्पणियां

मामले में एफिडेविट फाइल किया गया कि 5 साल के ऊपर के बच्‍चे को ही मानव श्रृंखला में लगाया जा रहा है. इसे अदालत ने बहुत गंभीरता से लिया है. अदालत ने पूछा, 10 साल के बच्‍चों से मानव श्रृंखला कीजियेगा, किस तहत कीजियेगा. मीडिया कैसे इमरजेंसी में आ गया, इसका मतलब आप केवल प्रचार चाहते हैं. आम दिनों में राष्ट्रीय राजमार्ग जाम रहता है, उसकी सुध लेने वाला कोई नहीं होता और पांच घंटे पूरे राज्य में वाहनों को रोक दिया जाएगा तब कौन देखेगा.'

कोर्ट में चल रही सुनवाई के बाद इस मानव श्रृंखला को लेकर अनिश्चितता की स्थिति बन गयी है और सारी निगाहें शुक्रवार को होने वाली सुनवाई पर होगी. राज्य सरकार के दावों के अनुसार इस मानव श्रृंखला में 2 करोड़ से अधिक लोग भाग लेंगे. और राज्य सरकार के हेलीकॉप्टर के अलावा सेटेलाइट से भी इसकी तस्‍वीरें लेने की तैयारी की गयी है.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement