लोगों का अखबारों और चैनलों के मुकाबले सोशल मीडिया पर ज्यादा भरोसा शुभ संकेत नहीं : नीतीश कुमार

नीतीश कुमार ने विधानसभा में कहा कि चाहे विपक्ष में हों या नहीं, मीडिया ने मेरा क्या-क्या नामकरण नहीं किया!

लोगों का अखबारों और चैनलों के मुकाबले सोशल मीडिया पर ज्यादा भरोसा शुभ संकेत नहीं : नीतीश कुमार

बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने विधानसभा में गृह विभाग के बजट पर भाषण दिया.

पटना:

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को इस बात का मलाल है कि वे चाहे विपक्ष में हों या नहीं, मीडिया ने उनका क्या-क्या नामकरण नहीं किया. विपक्ष, खासकर राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव का नाम लिए बिना उन्होंने कहा कि ये लोग जनता को जानते नहीं. जनता का भरोसा किस पर है, वह हाल में साबित हो गया.

नीतीश कुमार ने यह बातें बृहस्पतिवार को बिहार विधानसभा में कहीं. उन्होंने गृह विभाग से सम्बंधित बजट पर चर्चा के दौरान कहा कि उनका काम जनता की सेवा करना है और इसी को वे अपना धर्म समझते हैं. अपने भाषण के दौरान नीतीश सोशल मीडिया के बढ़ते प्रभाव से साफ़-साफ़ चिंतित दिखे . उनका कहना था कि लोगों को अब अख़बार और न्यूज़ चैनल से ज़्यादा सोशल मीडिया पर भरोसा हो रहा है, जो शुभ संकेत नहीं है. उनका कहना था कि जब कोई घटना होती है तो बढ़ा चढ़ाकर दिखाया और लिखा जाता है. लेकिन जब उसी मामले का खुलासा होता है तब उसे जगह नहीं दी जाती.

पहली बार बिहार विधानसभा में नीतीश ने बताया कि बिहार में जहां करीब साढ़े छह हजार से अधिक कब्रिस्तानों की घेराबंदी हो, वहीं पांच सौ के करीब मंदिरो की भी चारदीवारी का निर्माण कराया जा रहा है.

नीतीश कुमार की बिहार पुलिस को दो टूक, सब सुविधाएं दे रहे हैं तो अब कुछ तो करो!

VIDEO : एक लाख से अधिक बाढ़ प्रभावित राहत शिविरों में

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com