प्रशांत किशोर ने बिहार के CM नीतीश कुमार से कहा- अपनी बात पर टिके रहने के लिए शुक्रिया

चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने बुधवार को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का शुक्रिया अदा किया है.

प्रशांत किशोर ने बिहार के CM नीतीश कुमार से कहा- अपनी बात पर टिके रहने के लिए शुक्रिया

प्रशांत किशोर ने NRC और NPR पर नीतीश कुमार के रुख पर दिया जवाब

खास बातें

  • प्रशांत किशोर ने नीतीश कुमार को कहा धन्यवाद
  • कहा- अपनी बात पर टिके रहने के लिए शुक्रिया
  • 'बिहार में NRC की कोई जरूरत नहीं'
पटना:

चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने बुधवार को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का शुक्रिया अदा किया है. प्रशांत किशोर ने बुधवार को ट्वीट करते हुए कहा कि एनपीआर और एनआरसी पर अपनी बात पर बने रहने के लिए नीतीश कुमार जी धन्यवाद. प्रशांत किशोर ने ट्वीट करते हुए लिखा, '#NPR_NRC पर अपनी बात पर बने रहने के लिए नीतीश कुमार ज़ी धन्यवाद. लेकिन इसके अलावा बिहार के हित से जुड़े मुद्दे और सामाजिक सौहार्द जैसे जुड़े बड़े मुद्दे हैं. हम केवल यह आशा कर सकते हैं कि आप अपने अंतरात्मा के प्रति सचेत रहें और इन दोनों ही मामलों में भी खड़े रहें.' बता दें, प्रशांत किशोर को हालही नीतीश कुमार ने अपनी पार्टी जदयू से बाहर निकाल दिया था. 

CAA को लेकर पीएम मोदी की आलोचना करना ब्रिटीश कॉमेडियन को पड़ा भारी, हॉटस्टार ने बैन किया एपिसोड...

वहीं, मंगलवार को बिहार विधानसभा ने एनपीआर 2020 के प्रपत्र में ट्रांसजेंडर का समावेश किए जाने के साथ राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर 2010 में अंकित कॉलम के अनुसार ही एनपीआर कराए जाने का प्रस्ताव सर्वसम्मति से पारित कर दिया. राज्य में एनआरसी के विरोध में भी मंगलवार को सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित किया गया. बिहार विधानसभा के अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी ने कहा कि सदन की प्रथम पाली में कार्यस्थगन प्रस्ताव (एनपीआर को लेकर) पर विमर्श के दौरान सभी सदस्यों की राय निकलकर आई कि एनपीआर और एनआरसी को लेकर एक सर्वसम्मत प्रस्ताव सदन द्वारा पारित किया जाए. 

NPR के मुद्दे पर चल रही बहस में नीतीश कुमार ने तेजस्वी यादव से कहा, 'मत बोला करो ज्यादा'

Newsbeep

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी तथा प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी प्रसाद की उपस्थिति में उन्होंने कहा, 'उसी सिलसिले में एक प्रस्ताव मैं आप लोगों के समक्ष पढ़ रहा हूं जिस पर आप सभों की सहमति की अपेक्षा है.' चौधरी ने कहा कि राज्य में वर्तमान राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर 2020 की कार्रवाई से संबंधित प्रस्तावित प्रपत्र में ट्रांसजेंडर का समावेश किया जाए और राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर 2010 के कॉलम के आधार पर प्राप्त सूचनाओं के आधार पर एनपीआर कराया जाए. साथ ही उन्होंने कहा कि बिहार में एनआरसी की कोई आवश्यकता नहीं है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


Video: प्रशांत किशोर ने नीतीश कुमार को दी सलाह, "अपनी बात कहने के लिए किसी का पिछलग्गू ना बने"