Bihar Assembly Election 2020 : BJP ने अपने स्टार प्रचारकों की लिस्ट में रूडी और शाहनवाज़ हुसैन का नाम क्यों नहीं रखा

Bihar Assembly Election 2020:: रविवार को BJP समेत अधिकांश राष्ट्रीय और क्षेत्रीय दलों ने अपने स्टार प्रचारकों की सूची जारी की. सबसे ज़्यादा चौंकाने वाली भारतीय जनता पार्टी की सूची में देखने को मिली.

Bihar Assembly Election 2020 : BJP ने अपने स्टार प्रचारकों की लिस्ट में रूडी और शाहनवाज़ हुसैन का नाम क्यों नहीं रखा

Bihar Assembly Election 2020: क्या दोनों नेताओं से पार्टी का केंद्रीय नेतृत्व नाराज है?

Bihar Assembly Election 2020: रविवार को BJP समेत अधिकांश राष्ट्रीय और क्षेत्रीय दलों ने अपने स्टार प्रचारकों की सूची जारी की. सबसे ज़्यादा चौंकाने वाली भारतीय जनता पार्टी की सूची (Bihar BJP Star Campaigner) में देखने को मिली. जहां कई सांसदों के नाम थे लेकिन छपरा से सांसद राजीव प्रताप रूडी (Rajiv Pratap Rudy) और बिहार में भाजपा का मुस्लिम चेहरा सैयद शाहनवाज़ हुसैन (Shahnawaz Hussain) इस सूची से ग़ायब दिखे. ये पहली बार होगा जब इन दोनों नेताओं को स्टार प्रचारक की सूची से ड्रॉप किया गया है. पार्टी नेताओं का कहना है कि यह अभी तक की फीडबैक के आधार पर किया गया है. जहां राजपूत बहुल इलाक़े से योगी आदित्यनाथ या केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की मांग अधिक थी.  

Read Also: बिहार की राजनीति में नीतीश भाजपा के लिए ज़रूरी और भाजपा के साथ रहना उनकी मजबूरी क्यों?

राजीव प्रताप रूडी, जो पहली बार 1996 में भाजपा के टिकट पर लोक सभा के लिए चुने गये उनकी तुलना में 2014 में BJP में शामिल होने वाले औरंगाबाद के सांसद सुशील सिंह या केंद्रीय मंत्री राजकुमार सिंह का स्टार प्रचारकों की सूची में होना सबके लिए हैरानी का विषय है. 

भाजपा नेताओं का कहना है कि पूर्व केंद्रीय मंत्री शाहनवाज़ हुसैन का नाम इस लिस्ट में नहीं होना एक तरह से उन्हें संकेत है कि बिहार में जब तक नीतीश कुमार का साथ है तब तक मुस्लिम मतदाताओं के लिए अन्य मुस्लिम नेता काफ़ी हैं. यह पहली बार होगा, जब रूडी या शहनवाज जैसे नेता, स्टार प्रचारक के रूप में विधानसभा चुनावों में नहीं दिखेंगे. इस लिस्ट में राष्ट्रीय जनता दल से आए और भाजपा के टिकट पर दो बार सांसद बने रामकृपाल यादव का नाम है तो पहली बार राज्य सभा गए विवेक ठाकुर भी इस सूची में हैं. 

Read Also: क्या है पटना का 'डी लाल' और 'मेफेयर', जिसके बारे में जेपी नड्डा ने पूछा?

हालांकि यह बात किसी से छिपी नहीं है कि केंद्र में वर्तमान सरकार में बैठे लोग हो या पार्टी चला रहे लोग. वह रूडी और शहनवाज को पसंद नहीं करते हैं. चर्चा यह भी है कि पार्टी का केंद्रीय नेतृत्व शहनवाज हुसैन को भागलपुर से विधान सभा चुनाव में उम्मीदवार बनाना चाहती थी लेकिन उन्होंने बहुत दिलचस्पी नहीं दिखाई. 

Newsbeep

हालांकि मीडिया में इसकी चर्चा होने पर भारतीय जनता पार्टी ने इस पर प्रतिक्रिया भी जाहिर की है. बीजेपी ने ट्विटर के माध्यम से कहा कि मीडिया में शहनवाज हुसैन और राजीव प्रताप रूड़ी का नाम स्टार प्रचारकों की सूची में नहीं होने की खबरें हैं. स्पष्ट हो कि यह एक सूची है. भारतीय जनता पार्टी के अनुसार स्टार प्रचारकों की सूची चुनाव के चरण व कार्यक्रम के हिसाब से अपडेट होती है. ऐसे में बिना जाने-समझे ऐसी भ्रामक खबरों से बचना चाहिए.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


Video: बिहार चुनाव में 2 घंटे में कार्यकर्ता से बनें नेता!