NDTV Khabar

RJD नेता शिवानंद तिवारी ने बालिका गृह रेप कांड को लेकर नीतीश पर बोला हमला, पूछा - अब कहां गई उनकी नैतिकता!

राजद नेता शिवानंद तिवारी ने मुजफ्फरपुर बालिका गृह रेप कांड को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर जमकर निशाना साधा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
RJD नेता शिवानंद तिवारी ने बालिका गृह रेप कांड को लेकर नीतीश पर बोला हमला, पूछा - अब कहां गई उनकी नैतिकता!

राजद नेता शिवानंत तिवारी ने नीतीश कुमार पर बोला हमला. (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. शिवानंद तिवारी ने नीतीश पर जमकर बोला हमला
  2. पूछा क्या अब इस्तीफा नहीं देंगे बिहार के मुख्यमंत्री
  3. शिवानंद ने नीतीश को गैसल रेल दुर्घटना की याद भी दिलाई
पटना/नई दिल्ली:

राजद नेता शिवानंद तिवारी ने मुजफ्फरपुर बालिका गृह रेप कांड को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर जमकर निशाना साधा. शिवानंद तिवारी ने कहा, मुख्यमंत्री जी बहुत विलंब से शर्मसार हुए, लेकिन बच्चियों के साथ मुज़फ़्फ़रपुर में हुई दरिंदगी ने उनको इतना शर्मसार नहीं किया कि उनकी अंतरात्मा उन्हें कुर्सी छोड़ने के लिए बाध्य कर सके. वैसे नीतीश कुमार ने रेल मंत्रालय से एक मर्तबा त्याग पत्र दिया था.

यह भी पढ़ें : मुजफ्फरपुर बालिका गृह रेप कांड : जानें कहां, कब और क्या-क्या हुआ, यहां है पूरा घटनाक्रम

राजद नेता ने फेसबुक पोस्ट में कहा कि गैसल में रेल दुर्घटना की नैतिक जवाबदेही लेते हुए प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के मंत्रिमंडल से उन्होंने त्यागपत्र दिया था. लेकिन उस त्यागपत्र से उनकी कुर्सी जानेवाली नहीं है यह उन्होंने पहले ही तौल लिया था. नीतीश आश्वस्त थे कि अटल जी उनके त्यागपत्र को मंज़ूर नहीं करेंगे. कुर्सी जाने का कोई जोखिम नहीं था. बल्कि नैतिकता के आधार पर सत्ता त्याग देने वाले राजनेता की छवि भी बनेगी और कुर्सी भी बची रहेगी. यही हुआ भी. अटल जी ने इस्तीफ़ा नामंज़ूर कर दिया था.


टिप्पणियां

VIDEO :  मुजफ्फरपुर रेप मामले पर बोले नीतीश, ‘शर्मसार हैं हम’

नीतीश कुमार उस समय अटल जी की सरकार में मंत्री थे. तब उन्होने रेल दुर्घटना की नैतिक जवाबदेही ली थी. यहां तो उनकी ख़ुद की सरकार है. यहां कहां गई उनकी नैतिकता! कहां सो गई है उनकी अंतरात्मा? देश और दुनिया थू-थू कर रही है. मुज़फ़्फ़रपुर की घटना ने नीतीश कुमार को तो नहीं, लेकिन बिहार और बिहारियों को ज़रूर शर्मसार कर दिया है. लेकिन सत्ताकामी नीतीश कुमार को इससे कोई फ़र्क़ पड़ने वाला नहीं है. अब जनता ही कान पकड़ कर इनको कुर्सी से उतारेगी.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement