NDTV Khabar

बिहार के वैशाली में राजद नेता की दबंगई, अधिकारी को सरेआम मारा थप्पड़

घटना वैशाली प्रखंड की है जहां खाद्य आपूर्ति विभाग के अधिकारी सरकार के आदेश पर त्योहारों के मद्देनजर गरीबों को मिलने वाले अनाज को भेजने में व्यस्त थे. उसी दौरान राजद के प्रखंड अध्यक्ष रामाशीष राय गोदाम पर आ धमके और गोदाम बंद करने का फरमान सुनाने लगे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बिहार के वैशाली में राजद नेता की दबंगई, अधिकारी को सरेआम मारा थप्पड़

अधिकारी ने राजद नेता के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करा दी है

पटना: बिहार के वैशाली में एक राजद नेता की दंबगई का विडियो सामने आया है जिसमें राजद नेता ने एक वरिष्ठ अधिकारी को सरेआम थप्पड़ जड़ दिया. घटना के बाद आरजेडी नेता के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है लेकिन तस्वीर बताती है कि सत्ता चली गई लेकिन राजद के छुटभैये नेताओं की अकड़ अभी भी बरकरार है.

घटना वैशाली प्रखंड की है जहां खाद्य आपूर्ति विभाग के अधिकारी सरकार के आदेश पर त्योहारों के मद्देनजर गरीबों को मिलने वाले अनाज को भेजने में व्यस्त थे. उसी दौरान राजद के प्रखंड अध्यक्ष रामाशीष राय गोदाम पर आ धमके और गोदाम बंद करने का फरमान सुनाने लगे. वीडियो में साफ़ देखा जा सकता है कि एजीएम कुणाल शंकर लगातार नियम कायदों की दुहाई देते रहे लेकिन नेताजी ने इसी बीच अधिकारी को एक थप्पड़ जड़ दिया. दरअसल नेताजी की बहु धर्मशीला देवी स्थानीय वैशाली प्रखंड की प्रमुख हैं जिसको लेकर नेताजी अधिकारियों को धौंस दिखाते हैं. नेताजी एजीएम को धमका रहे हैं कि प्रमुख महिला हैं इसलिए वो नहीं आएंगी, आपको खुद चल कर उनके पास कागजात दिखाने होंगे.

टिप्पणियां
खाद्य आपूर्ति कुणाल शंकर कहते हैं, 'वो किसी न किसी बहाने आते हैं, हम उनसे लिखित मांग रहे थे कि हम उनको लिखित में कागजात उपलब्ध करा देंगे. लेकिन उनका पर्पस कुछ और था, किसी तरह से बार बार तंग करना, डाराना, गोदाम को बंद करना, उनका मुख्य उद्देश्य कुछ और ही है. कितनी बार कार्यालय में बुलाते हैं, कभी घर पर बुलाते हैं, कभी बेटा से बुलवाते हैं, कभी भाई आते हैं और कहते हैं कि चलिए बुला रहे हैं. ये साफ है कि उनको रिश्‍वत चाहिये. ऐसे भय के माहौल में काम करना मुश्किल है, इसलिए हमने वरीय अधिकारियों को सूचित किया है कि गाली सुनकर और मार खाकर काम करना मुश्किल है.'

इस घटना के बाद ऐजीएम ने राजद नेता के खिलाफ वैशाली थाने में प्राथमिकी दर्ज करा दी है. साथ ही डीएम से मिलकर खुद को ऐसे दबंग नेताओं से बचाने की गुहार भी लगाई है, और खुद को दूसरे कार्यालय में ट्रांसफर करने की मांग की है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement