NDTV Khabar

जेडीयू के अल्टीमेटम पर आरजेडी ने कहा - तेजस्वी के इस्तीफे का सवाल ही नहीं उठता

जेडीयू ने आरजेडी को चार दिन का अल्टीमेटम देते हुए कहा कि पार्टी उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव से इस्तीफा लेने या नहीं लेने का फैस्ला चार दिन में ले.

852 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
जेडीयू के अल्टीमेटम पर आरजेडी ने कहा - तेजस्वी के इस्तीफे का सवाल ही नहीं उठता

उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव के बारे में जेडीयू का कहना है कि वे अपने ऊपर आरोप लगे आरोपों का जवाब दें...  

खास बातें

  1. जेडीयू ने दिया आरजेडी को दिए तेजस्वी पर कार्रवाई के लिए चार दिन
  2. आखिरी निर्णय लेने के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को अधिकृत किया गया
  3. जेडीयू की प्रेस कॉन्फ़्रेंस के बाद आरजेडी ने मीडिया में रखा अपना पक्ष
पटना: बिहार में सत्ताधारी महागठबंधन में शामिल जनता दल (युनाइटेड) की मंगलवार को हुई बैठक के बाद आरजेडी को चार दिन का अल्टीमेटम देते हुए कहा कि पार्टी उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव से इस्तीफा लेने या नहीं लेने का फैस्ला चार दिन में ले अन्यथा जेडीयू कोई फैसला लेने के लिए बाध्य होगी. इस मामले में आखिरी निर्णय लेने के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को अधिकृत किया गया है. बैठक के बाद जद (यू) प्रवक्ता नीरज कुमार ने स्पष्ट किया है कि पार्टी परंपरा और सिद्धांतों से कोई समझौता नहीं करेगी. उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव के बारे में कहा गया कि जिन पर आरोप लगे हैं, वे तथ्यों के साथ जवाब दें.  

यह पूछे जाने पर कि क्या मुख्यमंत्री तेजस्वी से इस्तीफा लेंगे, उन्होंने किसी का नाम लिए बिना कहा, "जिन पर आरोप लगे हैं, वे तथ्यों के साथ जनता के सामने अपना पक्ष रखें, पार्टी उनसे यही अपेक्षा करती है। यह जनआकांक्षा भी है." उन्होंने आगे कहा, "उनसे इसकी अपेक्षा की जाती है कि तथ्य सामने रखें। भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की जो लाइन हमने खींची है, उससे हम पीछे नहीं हट सकते।"

गौरतलब है कि सीबीआई ने राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद व उनके परिवार के सदस्यों से जुड़े पटना, दिल्ली, रांची व गुरुग्राम के 12 ठिकानों पर शुक्रवार को छापेमारी की थी. इस मामले में सीबीआई ने लालू प्रसाद, उनकी पत्नी राबड़ी देवी तथा उनके पुत्र और उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव सहित कई अन्य के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है. वैसे, पिछले कुछ दिनों से लालू प्रसाद और उनके परिवार के खिलाफ सीबीआई, प्रवर्तन निदेशालय और आयकर विभाग द्वारा की गई कार्रवाई के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अब तक चुप्पी साध रखी थी.  

जदयू के इस प्रेस कांफ्रेंस के बाद राजद प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे ने कहा कि आप अवगत हैं कि तेजस्वी प्रसाद यादव का कार्य उपमुख्यमंत्री, पथ एवं भवन निर्माण मंत्री के रूप में अतिसंतोषजनक और सराहनीय रहा है तथा इस अवधि में उनपर कहीं भी कोई आरोप नहीं लगा है इसलिए उनके इस्तीफा का कहीं कोई प्रश्न ही नहीं उठता. राजद प्रमुख लालू प्रसाद की पत्नी राबडी देवी के आवास के बाहर पत्रकारों से बातचीत करते हुए पूर्वे ने कहा कि युवा नेता के रूप में अपनी लोकप्रियता का प्रभाव तेजस्वी यादव ने बिहार और तमाम लोगों पर डाला है. यह पूछे जाने पर कि जदयू ने कहा है कि उनपर जो आरोप लगे हैं, उस बारे में तथ्यों के साथ जनता बीच जाएं, पूर्वे ने कहा कि वे हमारे नेता हैं. हमारा जो स्टैंड है वह हमने आपके सामने रखा है.  


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement