बिहार एनडीए में जारी सियासी उथल-पुथल के बीच NDTV से बोले उपेंद्र कुशवाहा: NDA के साथ, मगर चाहिए ज्यादा सीटें क्योंकि...

लोकसभा चुनाव 2019 के मद्देनजर भारतीय जनता पार्टी के सीटों के बंटवारे के फॉर्मूले को लेकर बिहार एनडीए में सियासी हलचल थमने का नाम ले ही नहीं रही है.

बिहार एनडीए में जारी सियासी उथल-पुथल के बीच NDTV से बोले उपेंद्र कुशवाहा: NDA के साथ, मगर चाहिए ज्यादा सीटें क्योंकि...

एनडीटीवी से खास बातचीत करते उपेंद्र कुशवाहा

खास बातें

  • बिहार में सियासी हलचल थमने का नाम नहीं ले रही
  • केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा को लेकर अटकलबाजी गरम
  • उपेंद्र कुशवाहा ने हालांकि कहा कि वह एनडीए के साथ ही रहेंगे
पटना:

लोकसभा चुनाव 2019 के मद्देनजर भारतीय जनता पार्टी के सीटों के बंटवारे के फॉर्मूले को लेकर बिहार एनडीए में सियासी हलचल थमने का नाम ले ही नहीं रही है. रालोसपा प्रमुख और केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा को लेकर लगातार अटकलबाजी हो रही है. लेकिन खुद उपेंद्र कुशवाहा का कहना है कि वह एनडीए में ही रहेंगे, मगर ज्यादा सीटों के साथ. उपेंद्र कुशवाहा ने कहा है कि बिहार में बीते कुछ सालों में उनका आधार बढ़ा है, यही वजह है कि वह बीजेपी से एनडीए में अधिक सीटों की मांग कर रहे हैं. 

सीट बंटवारे पर बोले उपेंद्र कुशवाहा: एनडीए में ही कुछ लोग नहीं चाहते कि मोदी जी फिर से प्रधानमंत्री बनें

बिहार में एनडीए में प्रमुख घटक दलों में शामिल रालोसपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा का कहना है कि या तो वो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी या फिर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को बताएंगे कि एनडीए में वो कौन है जो पीएम मोदी की दोबारा सत्ता वापसी को विफल करना चाहते हैं. वहीं उन्होंने कहा है कि नीतीश कुमार के एनडीए में लौटने से लोकसभा चुनाव में फायदा होगा. 

कुशवाहा ने कहा कि एनडीए में कुछ लोग हैं जो एनडीए को ही हराना चाहते हैं. हालांकि, उन्होंने यह भी कहा है कि नीतीश की एनडीए में वापसी से और मजबूती आई है. गौरतलब है कि बीते दिनों जब मीडिया में खबरें आईं थी कि कुशवाहा एनडीए में सीट बंटवारे के फॉर्मूले पर नाराज चल रहे हैं और वह एनडीए का साथ छोड़ राजद के खेमे में जा सकते हैं, तब उन्होंने स्पष्ट कर दिया था कि वह एनडीए में ही रहेंगे. उपेंद्र कुशवाहा ने NDA के भीतर सीट बंटवारे को लेकर कहा कि एनडीए में कुछ लोग हैं जो नहीं चाहते हैं कि मोदी जी फिर से प्रधानमंत्री बनें. ऐसे लोग जान-बूझकर इस तरह की अफवाहें फैलाते हैं, ताकि NDA में मतभेद पैदा हों...". 

लोकसभा चुनाव 2019: अगर ऐसा हुआ तो उपेंद्र कुशवाहा 'यदुवंशी के दूध और कुशवंशी के चावल' से सियासी खीर पका सकते हैं

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

गौरतलब है कि बीते गुरुवार को ऐसी खबर आई थी कि बीजेपी ने बिहार एनडीए में सीट बंटवारे को लेकर एक फॉर्मूला सुझाया है, जिसके तहत बीजेपी 20 सीटों पर चुनाव लड़ने पर विचार कर रही है, वहीं जदयू को 12+1 सीट देने पर विचार कर रही है. इसके मुताबित, रालोसपा को 3 से 4 के करीब में सीट मिलने का अनुमान है.

दिल्ली से बिहार तक कयासबाजी के बीच 'खीर' वाले बयान पर मोदी सरकार में मंत्री उपेंद्र कुशवाहा की सफाई
 

बता दें कि  बीते गुरुवार को खबर आई कि  2019 के लोकसभा चुनाव में बिहार में एनडीए के सीट बंटवारे को लेकर बीजेपी ने फॉर्मूला तैयार कर लिया है. बीजेपी ने जो फॉर्मूला तैयार किया है उसके मुताबिक, बीजेपी बिहार की 20 लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ सकती है. आपको बता दें कि अभी बिहार में बीजेपी के पास 22 सांसद हैं. वहीं इस सीट बंटवारे के फॉर्मूले से साफ है कि बीजेपी लोकसभा चुनाव में अपने सहयोगी दलों को साथ लेकर चलना चाहती है. इसलिए बीजेपी नाराज चल रहे सहयोगी दल जेडीयू को आगामी लोकसभा चुनाव में 12+1 सीट देने के फॉर्मूले पर विचार कर रही है. 
 
VIDEO: सियासी 'खीर' पर उपेन्द्र कुशवाहा की सफाई, कहा इसका किसी दल से लेना देना नहीं