भारत-नेपाल रिश्ते में तनाव की वजह से बिहार के बाढ़ निरोधक कार्य पर पड़ा असर

भारत-नेपाल रिश्ते में तनाव का असर बिहार के बाढ़ निरोधक कार्य पर सीधा पड़ रहा हैं.

भारत-नेपाल रिश्ते में तनाव की वजह से बिहार के बाढ़ निरोधक कार्य पर पड़ा असर

प्रतीकात्मक तस्वीर

पटना:

भारत-नेपाल रिश्ते में तनाव का असर बिहार के बाढ़ निरोधक कार्य पर सीधा पड़ रहा हैं. नेपाल ने पूर्वी चंपारन जिले से सटे नेपाल के रोतहट जिला में लालबकेय नदी के दायें तटबंध पर जो मरम्मत का काम चल रहा था, उसपर इस आधार पर रोक लगा दिया कि ये कार्य नो मेंस लैंड पर हो रहा हैं.

जानकारी के अनुसार नेपाल के रोतहट ज़िला के वरीय अधिकारी दायें तटबंध के गुआबरी बांध के मरम्मत कार्य के स्थल पर पहुंचे और काम पर रोक लगाने का आदेश दिया. यह नदी नेपाल से निकलकर पूर्वी चंपारन के के ढाका प्रखंड में प्रवेश करती हैं. हाल के वर्षों में इस नदी के कारण बाढ़ के समय आस-पास के इलाक़ों में काफ़ी तबाही होती हैं. हालांकि पूर्व के वर्षों में भी यहां काम रोका गया था लेकिन आपसी बातचीत से मामला सुलझा लिया जाता था.

इस साल काम रोके जाने की खबर के बाद पटना में सिंचाई विभाग के अधिकारियों की परेशानी बढ़ गयी हैं. उनका कहना हैं कि लॉकडाउन के कारण ऐसे ही काम काफी विलंब से शुरू हुआ. उसके बाद नेपाल का काम रोक देना, निश्चित रूप से इसका सारी तैयारियों पर प्रतिकूल असर पड़ेगा. हालांकि उनका कहना है केंद्र सरकार को इसके बारे में अवगत करा दिया गया है.

कुछ स्थानीय अधिकारियों का कहना है कि मार्च महीने में विवाद के बाद दोनों देश के अधिकारियों ने वहां जाकर नक्शे के आधार पर नो मैन्स लैंड को चिन्हित किया था और उसके बाद ही बांध को मजबूत करने का काम शुरू किया गया, लेकिन लगता है कि हाल में जुट दोनों देशों के बीच विवाद शुरू हुआ है उसके उसका असर यहां पर देखने को मिल रहा हैं.

वीडियो: भूख-प्यास से बेहाल मां की स्टेशन पर ही मौत, जगाता रहा बच्चा

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com