NDTV Khabar

मुजफ्फरपुर रेपकांड पर बिहार सरकार फटकार, टैक्स पेयर का पैसा ऐसे लोगों को दे रहे थे?

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि पिछले कई सालों से बिहार सरकार इस एनजीओ को फंड देती रही लेकिन उसे ये नहीं पता कि ये फंड वो क्यों दे रही है?

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मुजफ्फरपुर रेपकांड पर बिहार सरकार फटकार, टैक्स पेयर का पैसा ऐसे लोगों को दे रहे थे?

फाइल फोटो

नई दिल्ली:

बिहार के मुजफ्फरपुर के शेल्टर होम  में नाबालिग बच्चियों के साथ रेप का मामले पर सुनवाई करते हुये कहा कि आखिर देश में क्या हो रहा है. देश की सबसे बड़ी अदालत ने कहा कि हर 6 घंटे में लडकी का रेप हो रहा है. रोजाना चार लड़कियों के साथ रेप की घटनाएं हो रही हैं. अदालत ने NCRB के आंकड़ों के बताते हुये कहा कि साल 2017 में 38427 रेप हुए. सबसे ज्यादा रेप मध्य प्रदेश में और दूसरे नंबर पर उत्तर प्रदेश है.  कल देवरिया की खबर आई है. यह हमारे लिए बहुत चिंता का विषय है. कोर्ट ने पूछा कि इन मामलों को कैसे मॉनीटर किया जाये.

मुजफ्फरपुर कांड : बिहार सरकार में मंत्री मंजू वर्मा की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, सामने आई यह बड़ी वजह

सुप्रीम कोर्ट ने बिहार सरकार द्वारा शेल्टर होम का संचालन करने वाले NGO को फंड देने पर भी फटकार लगाई है.  सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि पिछले कई सालों से बिहार सरकार इस एनजीओ को फंड देती रही लेकिन उसे ये नहीं पता कि ये फंड वो क्यों दे रही है?  फंड जारी करने से पहले सरकार को इसके बारे में जांच करनी चाहिए थी.  


टिप्पणियां

बड़ी खबर: नीतीश कुमार ने किया मंत्री का बचाव​

वहीं बिहार सरकार की ओर से कहा गया कि समय-समय पर सोशल ऑडिट किया जाता है. कुछ बुरे अफसर भी होते हैं. इस पर सुप्रीम कोर्ट ने पूछा कि उन बुरे अफसरों के खिलाफ क्या शिकायत की गई है. कोर्ट ने फटकार लगाते हुये कहा कि आप टैक्स पेयर का पैसा ऐसे लोगों को दे रहे थे? ये सब सरकारी अनुदान से चल रहा था? बिना उन संस्थाओं की असलियत जाने, बिना inspection आप जनता का पैसा ऐसे लोगों को दिए जा रहे थे? 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement