NDTV Khabar

राजनीतिक मुलाकातें करने वाले लालू की जमानत रद्द कराये सीबीआई: सुशील मोदी 

सुशील मोदी ने कहा कि चारा घोटाला मामले में सजायाफ्ता होने के कारण लालू के चुनाव लड़ने पर पहले ही रोक लग चुकी है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
राजनीतिक मुलाकातें करने वाले लालू की जमानत रद्द कराये सीबीआई: सुशील मोदी 

सुशील मोदी ने किया लालू यादव पर हमला

पटना: बिहार के उपमुख्यमंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने बुधवार को मांग की कि केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) राजनीतिक मुलाकातें करने वाले राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव की जमानत रद्द कराये. सुशील मोदी ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर आरोप लगाया कि चारा घोटाला के चार मामलों में सजायाफ्ता लालू को राजनीतिक कार्यों से अलग रहने की शर्त पर केवल इलाज के लिए जमानत मिली थी, लेकिन वह लगातार शर्तों का उल्लंघन कर रहे हैं. उन्होंने आरोप लगाया कि राजद प्रमुख ने पहले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अशोक गहलोत से बात की और उसके बाद तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) के तीन सांसदों ने उनसे मुलाकात कर राजनीतिक चर्चाएं की.

यह भी पढ़ें: पेट्रोल-डीजल पर 28% जीएसटी के बाद राज्य भी अतिरिक्त कर लेंगे : सुशील मोदी

इस आधार पर सीबीआई को लालू की जमानत तत्काल रद्द करानी चाहिए. सुशील ने कहा कि लालू से कल मुलाकात करने वाले तेदेपा सांसदों ने स्वीकार किया था कि उऩ लोगों ने हालचाल पूछने के नाम पर लालू से भेंट की और संसद के मानसून सत्र में संभावित अविश्वास प्रस्ताव (आंध्रप्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा नहीं दिए जाने पर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ) पर उऩकी पार्टी का समर्थन मांगा. उन्होंने कहा कि तेदेपा और राजद, दोनों दलों ने लालू से राजनीतिक बातचीत की पुष्टि कर यह साबित किया है कि इन्हें जमानत की शर्तों का पालन करने की कोई परवाह नहीं है.

यह भी पढ़ें: बिहार एनडीए में मची खींचतान के पीछे ये है गुणा-गणित, यहां हर कोई है 'बड़ा भाई'

टिप्पणियां
यह अदालत की अवमानना का मामला भी है. सुशील ने कहा कि चारा घोटाला मामले में सजायाफ्ता होने के कारण लालू के चुनाव लड़ने पर पहले ही रोक लग चुकी है. सीबीआई को लालू की सेहत और उनकी राजनीतिक गतिविधियों की समीक्षा कर तुरन्त फैसला लेना चाहिए. गौरतलब है कि इससे पहले सुशील मोदी ने लालू पर हमला बोलते हुए कहा था कि लालू प्रसाद यादव और उनके परिवार पर एक बार फिर हमला किया है. उन्होंने इस बार लालू प्रसाद को राज्य का सबसे बड़ा जमींदार बताया है.

VIDEO: राउरकेला से पैदल दिल्ली आए मुक्तिकांत बिश्वाल.

मोदी ने आरोप लगाया कि बिहार में जब राजद का शासन था , उस वक्त प्रसाद ने कई बैनामा के जरिए पटना के पास करीब 2.5 एकड़ की जमीन खरीदी थी. कुछ साल पहले उस जमीन की पट्टा प्रसाद के छोटे बेटे और पूर्व उप - मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के नाम कर दिया गया था. गौरतलब हैं कि हाल के महीनों में सुशील मोदी ने लालू प्रसाद के परिवार पर कई ऐसे आरोप लगा चुके हैं. उन्होंने कहा कि 1990 और 2005 के बीच लालू यादव ने 255 डेसिमल जमीन से 2.5 एकड़ जमीन तक का सफर तय किया. उन्होंने अपने फायदे के लिए जमीन सस्ती कीमत पर भी खरीदी.(इनपुट भाषा से) 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement