NDTV Khabar

तारापीठ मामला : सुशील मोदी ने किया मंत्री शर्मा का बचाव, ममता सरकार को ठहराया जिम्मेदार

उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने कहा- तारापीठ में मंत्री, उनके समर्थकों और होटल कर्मियों के बीच हुई मारपीट की घटना के लिए पश्चिम बंगाल सरकार की दुर्भावना जिम्मेदार

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
तारापीठ मामला : सुशील मोदी ने किया मंत्री शर्मा का बचाव, ममता सरकार को ठहराया जिम्मेदार

उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने पश्चिम बंगाल में हुई मारपीट के मामले में मंत्री सुरेश शर्मा का बचाव किया है.

खास बातें

  1. पश्चिम बंगाल के तारापीठ के सोनार बंगला होटल में हुआ झगड़ा
  2. मोदी ने कहा- नगर विकास और आवास मंत्री सुरेश शर्मा शालीन व्यक्ति
  3. ममता सरकार की दुर्भावना के चलते होटल में मारपीट की घटना हुई
पटना: पश्चिम बंगाल के तारापीठ के सोनार बंगला होटल में बीजेपी के विधायक व बिहार के मंत्री सुरेश शर्मा, उनके समर्थकों और होटल के कर्मियों के बीच हुई मारपीट के मामले में उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने शर्मा का बचाव किया है. उन्होंने इस घटना के लिए सीधे तौर पर बंगाल की ममता सरकार को जिम्मेदार बताया है. मोदी का कहना है कि मंत्री के आचरण पर संदेह नहीं है.

सुशील मोदी ने ट्विटर पर लिखा है कि नगर विकास और आवास मंत्री सुरेश शर्मा शालीन व्यक्ति हैं और मंदिर में पूजा-पाठ के लिए ही पश्चिम बंगाल के तारापीठ की यात्रा पर थे. वहां की ममता सरकार की दुर्भावना के चलते उनके साथ होटल में मारपीट की जो घटना हुई उससे बिहार के सम्मान को ठेस पहुंची है.
सुशील मोदी ने कहा है कि माननीय मंत्री का अतीत राजद के बाहुबली शहाबुद्दीन या विधायक राजबल्लभ यादव जैसा नहीं है कि उनके आचरण पर संदेह किया जाए.

यह भी पढ़ें : पश्चिम बंगाल के तारापीठ में बिहार के मंत्री और उनके समर्थकों की जमकर पिटाई

विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव के आरोपों के जवाब में मोदी ने कहा कि बदले की भावना से दुर्भाग्यवश, राजद इसे भाजपा से जोड़कर होटल वालों की तरफदारी कर रहा है. घटना के बाद से राजद एवं कांग्रेस के नेताओं ने बिहार सरकार पर टिप्पणी करते हुए सुशील मोदी को गुंडों का सरगना तक कह डाला था.   

यह भी पढ़ें : पश्चिम बंगाल के होटल में मारपीट की घटना पर मंत्री सुरेश शर्मा ने कहा, मैंने तो कभी शराब छुई ही नहीं

राजद पर आरोप लगाते हुए मोदी ने कहा कि पटना हाईकोर्ट के आदेश पर जब से चारा घोटाले की जांच प्रक्रिया चल रही है, तब से विभिन्न लोगों के विरुद्ध अलग-अलग धाराओं में सजा तय हुई और कई लोग बरी भी किए गए. लेकिन न्यायपालिका पर जातिवादी होने के आरोप केवल लालू प्रसाद के समर्थक ही क्यों लगा रहे हैं? भ्रष्टाचार से विधायिका को खोखला करने वाले न्यायपालिका पर अविश्वास पैदा कर रहे हैं.

टिप्पणियां
VIDEO : मंत्री ने की मारपीट


गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल के तारापीठ स्थित सोनार बंगला होटल में मंत्री सुरेश शर्मा और उनके समर्थकों की होटल कर्मियों से झड़प हो गई थी. मंत्री सुरेश शर्मा की ओर से कहा जा रहा है कि सूचना के बाद भी पश्चिम बंगाल सरकार ने प्रोटोकाल के तहत जरूरी इंतजात नहीं किए.  मामले में बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने भी संज्ञान लिया. मंत्री सुरेश शर्मा को फोन करके हाल जाना, फिर पूरे हालात का जायजा भी लिया. वहीं जदयू ने मामले को लेकर पश्चिम बंगाल सरकार के खिलाफ आक्रोश जाहिर किया है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement