NDTV Khabar

तेजप्रताप के रडार पर आए RJD के ये दिग्गज नेता, कहा- मैं तेजस्वी और लालू जी के खिलाफ नहीं, मगर...

राजद नेता और लालू प्रसाद के बेटे तेज प्रताप ने कहा कि पारिवारिक कलह की सारी खबरें झूठी हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
तेजप्रताप के रडार पर आए RJD के ये दिग्गज नेता, कहा- मैं तेजस्वी और लालू जी के खिलाफ नहीं, मगर...

तेजप्रताप यादव (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. तेजप्रताप यादव ने रामचंद्र पूर्वे के खिलाफ खोला मोर्चा.
  2. उन्होंने कहा कि वे कार्यकर्ताओं की अनदेखी कर रहे हैं.
  3. तेजप्रताप ने कहा कि वह तेजस्वी और लालू जी के खिलाफ नहीं हैं.
पटना: राजद सुप्रीमो लालू यादव के परिवार में कलह की खबरों को खुद तेजप्रताप यादव ने खारिज कर दिया है. शनिवार को तेजप्रताप के बयान से ऐसे कायास लगए जाने लगे थे कि तेजप्रताप और तेजस्वी में राजनीतिक उत्तराधिकार को लेकर सब कुछ सही नहीं चल रहा है, मगर अब इन खबरों को खुद तेजप्रताप यादव ने सिरे से खारिज कर दिया है. राजद नेता और लालू प्रसाद के बड़े बेटे तेज प्रताप ने कहा कि पारिवारिक कलह की सारी खबरें झूठी हैं.

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव ने कहा कि 'पारिवारिक कलह की सारी खबरें झूठी हैं. ऐसा कुछ नहीं है. मैं तेजस्वी और लालू जी के खिलाफ नहीं हूं, मगर हां, कुछ पार्टी के वरिष्ठ नेता युवा कार्यकर्ताओं को बाहर का रास्ता दिखा रहे हैं. प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे कार्यकर्ताओं की अनदेखी कर रहे हैं.' बता दें कि रामचंद्र पूर्वे पार्टी के काफी अनुभवी नेता हैं और इन्हें लालू प्रसाद का भी करीबी माना जाता है. तेजप्रताप ने शनिवार को अपने बयान में किसी का नाम जाहिर नहीं किया था कि आखिर पार्टी के कौन से नेता हैं, जो युवाओं की अनदेखी कर रहे हैं, मगर इस बार उन्होंने राजद के प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे का नाम सबके सामने जाहिर कर दिया है. बता दें कि राजद परिवार और पार्टी का मामला उस वक्त मीडिया में छाया जब तेजप्रताप ने ट्वीट किया, "मेरा सोचना है कि मैं अर्जुन को हस्तिनापुर की गद्दी पर बैठाऊं और खुद द्वारका चला जाऊं. अब कुछेक 'चुगलों' को कष्ट है कि कहीं मैं किंग मेकर न कहलाऊं. राधे राधे."

तेजप्रताप का दर्द, कुछ लोग उनके और तेजस्वी के बीच मतभेद करा रहे हैं

तेजप्रताप यादव ने शनिवार को कहा कि पार्टी के ही कुछ लोग पार्टी में फूट डालने की कोशिश कर रहे हैं, वे भाई से भाई को लड़वाने की कोशिश कर रहे हैं. तेजप्रताप ने संवाददाताओं से कहा, "पार्टी में कुछ असामाजिक तत्व आ गए हैं, जो पार्टी को तोड़ने की कोशिश कर रहे हैं. लोग तेजस्वी और हमारे परिवार के लोगों का नाम इस्तेमाल कर पार्टी को बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं." 

इसके बाद तेजप्रताप ने लोगों को असामाजिक तत्वों से सावधान रहने की अपील करते हुए ट्वीट किया, "राजद और गठबंधन सहयोगियों के सामने 2019 का आम चुनाव है. केंद्र में एक नई सरकार बनाने की बड़ी जिम्मेवारी है, लेकिन हमें उन असामाजिक तत्वों से सावधान रहना है जो इस एकता में सेंध लगाना चाहते हैं। जय भीम, जय बहुजन, जय मंडल, जय हिंद." 

टिप्पणियां
इसके पहले राजद नेता और भगवान कृष्ण के भक्त तेजप्रताप ने एक ट्वीट के जरिए जहां खुद के द्वारका जाने की बात कही वहीं इशारों ही इशारों में तेजस्वी को सबकुछ सौंप देने की भी बात कही. इस दौरान उन्होंने हालांकि कुछ 'चुगलों' (आलोचकों) की भी बात लिखी है. (इनपुट आईएएनएस)

VIDEO: सुशील मोदी के घर में घुसकर उन्हें मारूंगा : तेजप्रताप


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement