पीएम मोदी के भ्रम फैलाने के आरोपों पर तेजस्वी का पलटवार, कहा, 'हम तो अदना सा ठेठ बिहारी हैं'

बिहार (Bihar) के दंगल में आज बड़े बड़े महायोद्धा उतर पड़े. पीएम मोदी (PM Modi) ने सासाराम, गया और भागलपुर में रैली की.वहीं नवादा में राहुल (Rahul Gandhi) और तेजस्वी (Tejashwi Yadav)साथ आए.

नई दिल्ली:

बिहार (Bihar) के दंगल में आज बड़े बड़े महायोद्धा उतर पड़े. पीएम मोदी (PM Modi) ने सासाराम, गया और भागलपुर में रैली की.वहीं नवादा में राहुल (Rahul Gandhi) और तेजस्वी (Tejashwi Yadav)साथ आए. पीएम ने भ्रष्टाचार के मुद्दे पर राजद (RJD) और कांग्रेस (Congress) को घेरा. तेजस्वी की रैलियों में उमड़ रही भीड़ को लेकर पीएम ने इशारों में हमला बोला, '' हर चुनाव में ऐसा भी होता है कि जब कुछ लोग भ्रम फैलाने के लिए एक दो चेहरों को अचानक बड़ा दिखाने लग जाते हैं. लेकिन इसका मतदान पर कोई असर नहीं पड़ता. बिहार का मतदाता तो इतना समझदार है कि वो भ्रम फैलाने वालों की हर कोशिश को खुद ही नाकाम कर रहा है.''

यह भी पढ़ें: बिहार : कन्हैया कुमार ने दुष्यंत की कविता के साथ किया प्रचार का आगाज'...कमल भी अब कुम्हलाने लगे हैं'

इस पर पलटवार करते हुए तेजस्वी यादव ने कहा, ''प्रधानमंत्री जी ने कहा कि कुछ लोगों के लिए माहौल बनाया जा रहा है. साफ तौर पर ये इशारा मेरे लिए था. हम तो अदना सा ठेठ बिहारी हैं. जो कि बिहारियों के लिए आवाज उठा रहे हैं.''

गौरतलब है कि राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव अपने पिता लालू प्रसाद यादव की गैरमौजूदगी में पार्टी का पूरा दारोमदार लेकर चल रहे हैं. उनकी रैलियों में खूब भीड़ जुट रही है और वो सीधा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर तीखे हमले कर रहे हैं. तेजस्वी यादव ने हसुआ में रैली के दौरान कहा कि 9 तारीख को लालू यादव बाहर आ रहे हैं और 10 तारीख को नीतीश की विदाई है.

यह भी पढ़ें: मैं अपनी अंतिम सांस तक पीएम मोदी के विचारों के साथ खड़ा हूं : चिराग पासवान

शुक्रवार को अपनी एक रैली में तेजस्वी ने नीतीश कुमार पर कोविड-19 महामारी के दौरान 'घर में बंद रहने' का आरोप लगाया है. उन्होंने प्रवासी मजदूरों का मुद्दा भी उठाया और कहा कि जब प्रवासी मजदूर वापस अपने घर आ रहे थे तो नीतीश कुमार मुख्यमंत्री आवास में बंद थे.

Newsbeep

तेजस्वी ने कहा कि उनकी सरकार सवर्णों, दलितों, गरीबों, पिछड़ों, अतिपिछड़ों, अल्पसंख्यकों सभी को एकसाथ लेकर चलेगी. उन्होंने लोगों से हाथ उठवाकर पूछा कि आपलोगों का आशीर्वाद है न? तेजस्वी ने कहा कि 9 नवंबर को लालू जी की रिहाई हो रही है, उसी दिन मेरा जन्मदिन भी है और 10 तारीख को नीतीश जी की विदाई है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बता दें कि बिहार में 28 अक्टूबर, 3 नवंबर और 7 नवंबर को मतदान होना है और परिणाम 10 नवंबर को घोषित किए जाएंगे. यादव ने अपने संबोधन में नीतीश कुमार को भ्रष्टाचार,नौकरियों,श्रमिकों के मुद्दे पर घेरा. उन्होंने कहा,"नीतीश जी, आप थके हुए हैं. आप बिहार की देखभाल करने में सक्षम नहीं होंगे."