NDTV Khabar

तेजस्वी यादव ने कहा, नीतीश कुमार ने जानबूझकर हमारे घर की तरफ लगवाया कैमरा, पोस्ट की फोटो 

सीएम आवास में सीसीटीवी कैमरा लगाने को लेकर भड़के तेजस्वी यादव.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
तेजस्वी यादव ने कहा, नीतीश कुमार ने जानबूझकर हमारे घर की तरफ लगवाया कैमरा, पोस्ट की फोटो 

तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार पर किया हमला

खास बातें

  1. नीतीश पर लगाया जानबूझकर तंग करने आरोप
  2. तेजस्वी ने कहा वह ऐसा पहली बार नहीं कर रहे हैं
  3. तेजस्वी ने कहा इससे कोई फायदा नहीं होने वाला है
पटना:

बिहार के सीएम नीतीश कुमार  (Nitish Kumar) और नेता विपक्ष तेजस्वी यादव (Tejaswi Yadav) के बीच खींचतान बढ़ती जा रही है. इस बार तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार के आवास पर लगे सीसीटीवी कैमरों को लेकर बयान दिया है. उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार ने जानबूझकर अपने आवास में उस जगह ही कैमरा लगवाया है जहां से वह उनके आवास पर भी नजर रख सके. तेजस्वी यादव ने इसे लेकर  एक ट्वीट भी किया है.उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा कि बिहार के सीएम नीतीश कुमार का घर के तीन तरफ सड़क और चौथी तरफ मेरा घर है. लेकिन सीएम को लगता है कि उन्हें सिर्फ उसी तरफ कैमरे लगवाने की जरूरत है जिस तरफ हमारा घर है.
 


किसी को सीएम नीतीश कुमार को बताना चाहिए इस तरह के तरीकों का कोई फायदा नहीं होगा. गौरतलब है कि यह कोई पहला मौका नहीं है जब तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार पर हमला बोला हो. इससे पहले तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार पर हमला करते हुए कहा था कि नीतीश सरकार ने जैनुल को जिंदा जलाने वाले दंगाईयों को अभी तक इसलिए नहीं पकड़ा है. ताकि वे किसी और को जिंदा जला सके.

यह भी पढ़ें: बिहार में बीजेपी ने मुख्यमंत्री का अपहरण कर लिया : गुलाम नबी आजाद


टिप्पणियां

साथ ही कहा कि नीतीश कुमार चुनाव से पहले सांप्रदायिक माहौल बना वोट पाना चाहते हैं. इसके अलावा उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार की महागठबंधन में अंतरात्मा इसलिए घुट रही थी क्योंकि हमारे रहते उन्हें किसी को जिंदा जलवाने और सांप्रदायिक दंगे प्रायोजित करवाने की छूट नहीं थी. तेजस्वी ने बुधवार को लगातार तीन ट्वीट करते नीतीश कुमार पर निशाना साधा.

VIDEO: तेजस्वी यादव से मिले कुशवाहा

पहले ट्वीट में उन्होंने लिखा है, '25 दिन पहले बिहार के सीतामढ़ी में संघ प्रशिक्षित मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा संरक्षित उन्मादी भीड़ ने 82 वर्षीय बुजुर्ग जैनुल अंसारी को जमकर पीटा. फिर गला रेत सरेआम चौक पर जिंदा जला दिया था. और तो और प्रशासन ने उन्हें 75 किमी दूर दूसरे जिले में दफनाया.'



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement