NDTV Khabar

शहीद जवान पर राजनीति गर्म, तेजस्वी ने कहा- नीतीश जी संघ का वकील मत बनिए

बिहार में शहीद सैनिकों के सम्मान को आधार बनाकर राजनीतिक रोटियां सेंकने का खेल शुरू हो गया है.

2.3K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
शहीद जवान पर राजनीति गर्म, तेजस्वी ने कहा- नीतीश जी संघ का वकील मत बनिए

तेजस्वी यादव और नीतीश कुमार (फाइल फोटो)

पटना: बिहार में शहीद सैनिकों के सम्मान को आधार बनाकर राजनीतिक रोटियां सेंकने का खेल शुरू हो गया है. अंतर इतना है कि कल तक भाजपा और नीतीश कुमार राजद को घेरती थी, मगर अब राष्ट्रीय जनता दल की बारी है. यही वजह है कि राजद नीतीश कुमार और सुशील मोदी से सवाल पूछ रही है. दरअसल, दो शहीद जवान के अंत्येष्टि में राज्य सरकार की ओर से न कोई मंत्री शामिल हुआ और न बीजेपी का कोई वरिष्ठ नेता. बस इसी को मुद्दा बनाकर तेजस्वी यादव ने नीतीश सरकार पर हमला बोला है. 

कश्‍मीर में आतंकी हमले में शहीद बिहार के दो जवानों को श्रद्धांजलि देने नहीं पहुंचा नीतीश का कोई मंत्री या BJP का कोई नेता

विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि बिहार में दो जांबाज सैनिक वीरगति को प्राप्त हुए, मगर नीतीश सरकार का एक मंत्री भी वीर जवानों को श्रद्धांजलि देने नहीं गया और न ही अंतिम संस्कार में शामिल हुआ. बता दें कि सीआरपीएफ जवान मुजाहिद के परिवार वालों ने सरकार की तरफ से दी जाने वाली पांच लाख के मुआवजे की राशि को लेने से इनकार कर दिया. 

तेजस्वी यादव ने प्रहार करते हुए कहा कि 'नीतीश जी संघ का वकील मत बनिए. ये राजनीतिक आरोप नहीं, शहीदों के सम्मान की बात है. शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दने की बजाय नीतीश कुमार के मंत्री गाना-गाने में व्यस्त थे. शर्म आनी चाहिए. साहब कम से कम शहीदों के प्रति तो संवेदना होनी चाहिए.'

यह भी पढ़ें - जनता दल यूनाइटेड ने आखिर क्यों उप चुनाव से किनारा किया

तेजस्वी यादव ने उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी पर भी हमला बोला और कहा कि विपक्ष में रहकर आप 21 लाख के मुआवजे की मांग करते थे, लेकिन अब तो आप वित मंत्री हैं, क्या हो गया? बता दें कि तेजस्वी यादव पटना में थे और वह भी भोजपुर जिले में मुजाहिद के परिवार वालों से नहीं मिले.

VIDEO : बिहार में शहीद का यह कैसा सम्मान? न कोई मंत्री आया न सांसद


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
2.3K Shares
(यह भी पढ़ें)... नीरव मोदी के नाम रवीश कुमार का खुला खत

Advertisement