NDTV Khabar

प्रवर्तन निदेशालय के सामने पेश नहीं हुए तेजस्वी यादव

बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी को अब 31 अक्टूबर को पेश होने के लिए कहा गया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
प्रवर्तन निदेशालय के सामने पेश नहीं हुए तेजस्वी यादव

बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री और राजद नेता तेजस्वी यादव. (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. तेजस्वी को अब 31 अक्टूबर को पेश होने के लिए कहा गया है
  2. ईडी तेजस्वी से 9 घंटे से अधिक समय तक पूछताछ कर चुका है
  3. ईडी ने पीएमएलए के तहत आपराधिक मामला दर्ज किया था
नई दिल्ली: राजद नेता लालू प्रसाद के पुत्र तेजस्वी यादव को उनके खिलाफ रेलवे होटलों के आवंटन में भ्रष्टाचार के मामले से जुड़ी धन शोधन की जांच के सिलसिले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के सामने पेश होना था, लेकिन वह पेश नहीं हुए. अधिकारियों ने बताया कि बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी को अब 31 अक्टूबर को पेश होने के लिए कहा गया है.

यह भी पढ़ें : छठ पर्व के बहाने ट्विटर पर क्यों भिड़े सुशील मोदी और तेजस्वी यादव

ईडी ने कुछ समय पहले लालू प्रसाद, उनके परिवार के सदस्यों और कुछ अन्य लोगों के खिलाफ धन शोधन रोकथाम कानून (पीएमएलए) के प्रावधानों के तहत मामला दर्ज किया था. तेजस्वी की मां और बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी को मामले में पूछताछ के लिए 27 अक्टूबर को ईडी के सामने पेश होने को कहा गया है.

VIDEO:आईआरसीटी घोटाला : पूछताछ के लिए तेजस्वी यादव पहुंचे सीबीआई मुख्यालय

प्रवर्तन निदेशालय तेजस्वी से इस मामले के सिलसिले में एक बार 9 घंटे से अधिक समय तक पूछताछ कर चुका है. राबड़ी देवी कम से कम 4 बार ईडी के सम्मनों के बाद भी उपस्थित नहीं हुईं. सीबीआई ने जुलाई महीने में प्राथमिकी दर्ज की थी और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद तथा अन्य लोगों की संपत्तियों पर कई बार तलाशी की थी. ईडी ने सीबीआई की प्राथमिकी के आधार पर पीएमएलए के तहत आपराधिक मामला दर्ज किया था. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement