NDTV Khabar

तेजस्वी का नीतीश कुमार पर बड़ा हमला, कहा-भ्रष्टाचार की गंगा का प्रवाह इतना तेज कि बड़े-बड़े घोटाले बांध तोड़ रहे

भागलपुर में उद्घाटन से पहले नहर के टूटटे पर बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर जमकर निशाना साधा.

68 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
तेजस्वी का नीतीश कुमार पर बड़ा हमला, कहा-भ्रष्टाचार की गंगा का प्रवाह इतना तेज कि बड़े-बड़े घोटाले बांध तोड़ रहे

बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव. (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. तेजस्वी ने कहा कि बिहार में भ्रष्टाचार की गंगा बह रही
  2. भागलपुर में सीएम नीतीश के उद्घाटन से पहले टूटा नहर
  3. नहर टूटने के कारण नीतीश को रद्द करना पड़ा कार्यक्रम
पटना: भागलपुर में उद्घाटन से पहले नहर के टूटटे पर बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर जमकर निशाना साधा. तेजस्वी ने तंज कसते हुए कहा कि बिहार में नीतीश कुमार की अगुवाई में भ्रष्टाचार की गंगा बह रही है. तेजस्वी ने कहा, 'नीतीश कुमार की अगुवाई में बिहार में भ्रष्टाचार की भयावह गंगा बह रही है. इस भ्रष्टाचार रूपी गंगा का प्रवाह इतना तेज है कि बड़े-बड़े घोटाले बांध तोड़ रहे हैं. मंगलवार को 828 करोड़ रुपये की लागत से भागलपुर के कहलगांव में बना बांध और नहर टूट गया.'

यह भी पढ़ें: बिहार की राजनीति में चूहे हैं सुपरहिट, तेजस्वी यादव की चुटकी- बांध भी चूहे कुतर गए क्या? उन्होंने कहा कि देश जान रहा है कि बिहार सरकार 8332 अब कैसे 'चूहे' भ्रष्टाचारी बन गए हैं? अब मिट्टी नहीं सीमेंट और कांक्रीट के बांध और नहर को भी ये सरकारी सरपरस्ती में कुतर रहे हैं. गौरतलब है कि पिछले दिनों जलसंसाधन मंत्री ललन सिंह बिहार में तटबंध टूटने का कारण चूहे को बताया था. तेजस्वी ने कहा कि बिहार में जल संसाधन विभाग भ्रष्टाचार का गढ़ और लूट का सबसे बड़ा अड्डा बन चुका है. नीतीश की सरपरस्ती में जल संसाधन विभाग में बाढ़ कटाव, बाढ़ राहत में लगातार घोटाले हो रहे हैं. नहर और बांध निर्माण-मरम्मती में संवेदकों और अभियंताओं की मिलीभगत से क्या नीतीश जी अवगत नहीं हैं?

यह भी पढ़ें: लालू प्रसाद ने नीतीश कुमार पर कसा तंज, पूछा-बाढ़ की वजह 'दो पैर' वाले चूहे या 'चार पैर' वाले

उन्होंने कहा, 'नैतिकता की बड़ी-बड़ी बातें करने वाले नीतीश कुमार जल संसाधन विभाग में हो रहे घोटालों पर कोई संज्ञान क्यों नहीं लेते? उनकी ऐसी क्या मजबूरियां हैं, जो इस विभाग के भ्रष्टाचार पर आंखें मूंद लेते हैं? एक मुख्यमंत्री के लिए इससे बड़ी प्रशासनिक विफलता क्या होगी, जो उनके उद्घाटन करने से महज कुछ घंटो पहले ही जनता का 828 करोड़ रुपये भ्रष्टाचार की गंगा में बह जाता है.' राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद के पुत्र तेजस्वी ने कहा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की बात करने वाले मुख्यमंत्री के सामने प्रतिदिन हजारों करोड़ रुपये के घोटाले उजागर हो रहे हैं, फिर भी पता नहीं किस नैतिकता के आधार पर ईमानदारी का ढोल पीटते रहते हैं.

VIDEO: बिहार : कहलगांव में सीएम नीतीश के उद्घाटन करने से पहले ही टूटा बांध, कई इलाकों में भरा पानी

उन्होंने कहा, 'जब तक राजद सरकार में थी, एक भी घोटाला नहीं हुआ. राजद बड़ी पार्टी थी और उसमें नीतीश जी के भ्रष्ट सिपहसलारों को घोटाले करने की छूट नहीं थी, शायद इसलिए उनका दम घुट रहा था' गौरतलब है कि भागलपुर में करोड़ों रुपये की लागत से बना बटेश्वरस्थान गंगा पंप नहर सिंचाई परियोजना के उद्घाटन से पहले ही मंगलवार को नहर की दीवार टूट जाने से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का बुधवार को उद्घाटन कार्यक्रम रद्द कर दिया गया है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement